लाइफ स्टाइल

रात में आपको भी नहीं आती घंटों तक नींद? इस ट्रिक से मिलेगी मदद, 60 सेकेंड में आ जाएगी नींद

jantaserishta.com
25 Feb 2022 9:27 AM GMT
रात में आपको भी नहीं आती घंटों तक नींद? इस ट्रिक से मिलेगी मदद, 60 सेकेंड में आ जाएगी नींद
x

नई दिल्ली: नींद हम सभी के लिए काफी जरूरी होती है. जिस तरह खाना हमारी सेहत के लिए जरूरी है उसी प्रकार नींद भी हमारी सेहत के लिए काफी जरूरी होती है. नींद पूरी ना होने पर व्यक्ति की सेहत पर इसका बुरा असर देखने को मिलता है. ऐसे में बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हें नींद ना आने की समस्या का सामना करना पड़ता है. बहुत से लोगों को रात में घंटों तक नींद नहीं आती या पूरी रात सिर्फ करवटें बदलते हुए बितानी पड़ती हैं. ऐसे में अगर आपको भी सोते समय इन सभी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं हैं. आज हम आपको एक ऐसी टेक्नीक बताने जा रहे हैं जिससे आपको चुटकियों में नींद आ जाएगी. आइए जानते हैं इस टेक्नीक के बारे में-

सबसे पहले तो यह जानना काफी जरूरी है कि नींद ना आने के पीछे लोगों की कुछ खराब आदतें भी होती हैं. कई बार लोग सोने के बहाने बिस्तर पर तो जल्दी लेट जाते हैं लेकिन सोने की बजाय घंटों तक फोन का इस्तेमाल करते हैं. सोते समय इलेक्ट्रॉनिक्स का इस्तेमाल करना नींद ना आने का मुख्य कारण हो सकता है. नींद ना आने की समस्या के कारण बहुत से लोग दवाईयों का सहारा भी लेते हैं. लेकिन आज हम आपको एक ऐसा तरीका बताने जा रहे हैं जिसे अपनाने से आपको बिना किसी दवाई के ही आसानी से नींद आ जाएगी. हम बात कर रहे हैं 'ब्रीदिंग टेक्नीक' की.
नींद ना आने की समस्या से परेशान लोगों के लिए 4-7-8 टेक्नीक काफी काम आ सकती है. यह टेक्नीक आपके दिमाग को रिलेक्स करने में मदद करती है जिससे आपको आसानी से नींद आ सकती है. साथ ही अगर आपकी नींद रात के बीच में खुल जाती है और दोबारा नींद आने में आपको काफी कठिनाई होती है तो इसके लिए भी ब्रीदिंग टेक्नीक आपकी काफी मदद कर सकती है.
4-7-8 ब्रीदिंग टेक्नीक का मतलब है कि आप 4 सेकेंड के लिए सांस लें फिर 7 सेकेंड के लिए सांस को रोक कर रखें फिर 8 सेकेंड में सांस को छोड़ें. इस टेक्नीक से आपका दिमाग शांत रहता है, तनाव कम होता है. यह टेक्नीक मांसपेशियों के दर्द से राहत दिलाने के साथ ही नींद लाने में भी आपकी मदद करती है. इस टेक्नीक से मात्र 60 सेकेंड में आपको नींद आ सकती है. इस 4-7-8 ब्रीदिंग टेक्नीक से इंसोमनिया की समस्या को तो ठीक किया ही जा सकता है साथ ही साथ क्रेविंग, गुस्से और माइग्रेन की समस्या को भी कंट्र्रोल किया जा सकता है.
माना जाता है कि इस टेक्नीक को कम से कम 6 हफ्ते तक करने से इसका सकारात्मक असर देखने को मिलता है. हार्ट के मरीजों के लिए भी यह ब्रीदिंग टेक्नीक काफी फायदेमंद मानी जाती है. इससे स्ट्रेस और एंग्जाइटी की समस्या ठीक हो सकती है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta