उत्तर प्रदेश

प्रयागराज: सीएम योगी से मिलने पैदल निकले 7 साल के बादल, करना चाहते हैं देश के लिए बड़ा काम

Bhumika Sahu
4 Aug 2022 10:09 AM GMT
प्रयागराज: सीएम योगी से मिलने पैदल निकले 7 साल के बादल, करना चाहते हैं देश के लिए बड़ा काम
x
7 साल के बादल करना चाहते हैं देश के लिए बड़ा काम

प्रयागराज: यूपी में वैसे तो आपने कई अनोखे काम होते हुए देखे होंगे। लेकिन किसी बच्चे को इतिहास रचते कम ही देखा होगा। प्रयागराज का बेटा बादल विंध्याचल धाम में मत्था टेकने के बाद लखनऊ CM आवास जाने के लिए दौड़ लगा रहा है। तीन दिन में वह आज गुरुवार को प्रयागराज पहुंचा। अब वह प्रयागराज से सीधे लखनऊ के लिए रवाना हो चुका है। सात अगस्त को वह लखनऊ पहुंचेगा। वहां सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलकर अपनी बात रखेगा। बता दें कि बादल की उम्र महज 7 साल की है।

बुधिया सिंह ने रचा था इतिहास
उड़ीसा के बुधिया सिंह के बारे में शायद आप भी जानते हों। वही बुधिया जिसने 7 साल की उम्र में पुरी से भुवनेश्वर तक 65 किलोमीटर की दूरी महज 7 घंटे 2 मिनट में पूरी की थी। यह वर्ल्ड रिकार्ड बना था। अब बादल बुधिया के उस रिकार्ड को तोड़ते हुए वर्ल्ड रिकार्ड अपने नाम करना चाहता है। बादल 7 घंटे से कम समय में 65 किलोमीटर की दूरी करेगा।
'देश का नाम रोशन करना चाहता है बादल'
बादल के कोच रजनीकांत ने बताया कि बादल पिछले डेढ़ साल से इस दौड़ के लिए अभ्यास कर रहा है। कोच बताते हैं कि बादल 65 किलोमीटर की दूरी तय कर बुधिया के रिकार्ड की बराबरी कर चुका है लेकिन वह किसी रिकार्ड में नहीं दर्ज है। इसलिए वह सीएम के आवास पर जाकर उनसे मिलना चाहता है। ताकि मुख्यमंत्री के आदेश पर प्रतियोगिता हो और उसमें बादल रिकार्ड बनाने में कामयाब हो। मांडा थाना क्षेत्र के भौसरा नरोत्तम ललितपुर गांव का निवासी है। उसके पिता कृष्णकांत बिंद गांव में खेती किसानी करते हैं। मां अनीता देवी गृहणी हैं। मां कहती हैं कि उनका बेटा धावक बनना चाहता है, वह देश का नाम रोशन करना चाहता है। हम लोग उसके इस मुहिम में साथ हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta