विश्व

रॉकेट हमले में अमेरिका का हाथ: बयान जारी कर कहा- आईएसआईएस के आतंकियों को बनाया निशाना

Rounak
29 Aug 2021 2:26 PM GMT
रॉकेट हमले में अमेरिका का हाथ: बयान जारी कर कहा- आईएसआईएस के आतंकियों को बनाया निशाना
x

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल (Blast near Kabul Airport) के एयरपोर्ट के पास रविवार को रॉकेट से हमला किया गया. एयरपोर्ट के पास स्थित रिहाइशी इलाके गुलाई में एक घर में रॉकेट जाकर गिरा. इस हमले में एक मासूम की मौत हो गई, जबकि तीन लोगों के घायल होने की खबर है. वहीं, कुछ देर बाद अमेरिका ने बताया है कि यह हमला उसने किया, जिसमें आईएसआईएस-के के आतंकियों को रॉकेट से निशाना बनाया गया. तीन दिन पहले ही सिलसिलेवार धमाकों से राजधानी काबुल दहल गई थी. काबुल एयरपोर्ट के पास गुरुवार को एक के बाद एक कई धमाके हुए थे, जिसमें 169 अफगानिस्तान नागरिकों और 13 अमेरिकी सैनिकों की जान चली गई थी.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी और धमाके की आशंका जताई थी. अमेरिका ने अपने नागरिकों से काबुल एयरपोर्ट से दूरी बनाए रखने की अपील की थी. एयरपोर्ट के पास हुए हमले के बाद अफरा-तफरी मच गई है. लोग एक-दूसरी जगह भागते हुए दिखाई दिए. हमले में भारी नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है, क्योंकि यह रॉकेट रिहाइशी इलाके में गिरा है. अमेरिका के दो अधिकारियों ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स को बताया कि अमेरिका ने काबुल में मिलिट्री स्ट्राइक की है. नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर अधिकारी ने कहा, ''रॉकेट से यह हमला संदिग्ध आईएसआईएस-के के आतंकियों को निशाना बनाकर किया गया है.'' उन्होंने यह भी बताया कि वे अभी शुरुआती जानकारी दे रहे हैं, इसमें बदलाव भी हो सकता है.

तस्वीरों और वीडियाो में धमाके के बाद आसपास काफी धुआं उठता हुआ दिखाई दे रहा है. घटनास्थल के पास रहने वाले लोगों का दावा है कि एक बच्चे की जान गई है. अफगानिस्तान पुलिस के प्रमुख ने हमले के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि अमेरिकी निकासी के बीच काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के उत्तर-पश्चिम में रॉकेट गिरा, जिसमें एक बच्चे की मौत हो गई. रॉकेट के हमले के बाद आसपास के घरों में लोग खड़े हुए दिखाई दिए. गली में भी लोग भागते हुए नजर आए. वहीं, लोगों द्वारा पानी की मदद से उठते धुएं को बुझाने की भी कोशिश की जा रही है.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta