विज्ञान

अध्ययन में दावा: 30 मिनट में कम सकते हैं ब्लड शुगर, टाइप-2 डायबिटीज में बेहद फायदेमंद

Nidhi Singh
13 Oct 2021 9:44 AM GMT
अध्ययन में दावा: 30 मिनट में कम सकते हैं ब्लड शुगर, टाइप-2 डायबिटीज में बेहद फायदेमंद
x
डायबिटीज दुनियाभर में तेजी से बढ़ती गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है। डायबिटीज को मुख्यरूप से दो प्रकार का माना जाता है

डायबिटीज दुनियाभर में तेजी से बढ़ती गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं में से एक है। डायबिटीज को मुख्यरूप से दो प्रकार का माना जाता है, टाइप-1 और टाइप-2। टाइप-2 डायबिटीज को अपेक्षाकृत अधिक गंभीर होता है। यह ऐसी स्थिति को संदर्भित करता है जिसमें शरीर में इंसुलिन प्रतिरोध या कम इंसुलिन के स्तर के कारण ब्लड शुगर का स्तर काफी बढ़ जाता है। ऐसे रोगियों को आहार में कार्बोहाइड्रेट और शुगर की मात्रा को कम करने के साथ प्रोटीन की मात्रा बढ़ाने की सलाह दी जाती है। डॉक्टरों बताते हैं, डायबिटीज की दवाओं और इंसुलिन के इंजेक्शन के माध्यम से सिर्फ लक्षणों को कम किया जा सकता है, यही कारण है कि लोगों को इस समस्या से बचे रहने के लिए कुछ चीजों से परहेज की आवश्यकता होता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक शुगर का स्तर बढ़ जाना कई गंभीर समस्याओं का कारण बन सकता है, इसे तुरंत नियंत्रित करना आवश्यक होता है। इसी से संबंधित नेचर जर्नल में छपी एक रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने एक ऐसे खाद्य पदार्थ के बारे में बताया है जिससे बस 30 मिनट में शुगर के स्तर को कम करने का दावा किया जा रहा है। आइए इस बारे में आगे की स्लाइडों में विस्तार से जानते हैं।

सिरका से कम कर सकते हैं शुगर

जर्नल में छपी रिपोर्ट में अध्ययनकर्ता बताते हैं कि अक्सर चाइनीज और एशियाई भोजनों में प्रयोग किए जाने वाले सिरका का सेवन ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में सहायक हो सकता है। शुगर के मरीजों पर किए गए अध्ययन में इसके बेहतर परिणाम देखने को मिले हैं। इसके लिए शोधकर्ताओं ने डायबिटीज रोगियों के दो समूहों पर अध्ययन करके परिणाम जानने की कोशिश की।

अध्ययन में क्या पता चला?

अध्ययन के लिए प्रतिभागियों को रातभर के उपवास के बाद एक समूह को 50 ग्राम कार्ब्स युक्त सफेद ब्रेड और तीन चौथाई हिस्सा सिरके का सप्लीमेंट दिया गया। उसी की तुलना में दूसरे समूह में कार्ब्स तो दिए गए लेकिन साथ में सिरका वाले सप्लीमेंट्स नहीं थे। आधे घंटे के बाद दोनों समूह के प्रतिभागियों के ग्लूकोज और इंसुलिन के स्तर की जांच की गई। अध्ययनकर्ताओं ने पाया कि सिरका दिए गए समूह वाले लोगों में 30-45 मिनट में ब्लड ग्लूकोज लेवल और 15-30 मिनट में इंसुलिन प्रतिक्रिया कम हो गई।

टाइप-2 डायबिटीज को कैसे कंट्रोल करें?

अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि शुगर के स्तर को नियंत्रित करने के लिए आहार में सिरका को शामिल किया जा सकता है, हालांकि इसके लिए एक बार अपने डाक्टर से सलाह जरूर ले लें। इसके अलावा ब्लड शुगर को नियंत्रित रखने के लिए विशेषज्ञ प्रति सप्ताह 2.5 घंटे व्यायाम या शारीरिक गतिविधि के साथ स्वस्थ आहार और वजन घटाने के उपाय करने की सलाह देते हैं।

वजन बढ़ने से रोकने के करें उपाय

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक डायबिटीज रोगियों को ऐसी शारीरिक गतिविधियां करनी चाहिए जो सांस फूलने का एहसास कराती हों जैसे, तेज चलना या जॉगिंग, सीढ़ियां चढ़ना, घर के काम करने आदि। शारीरिक निष्क्रियता इस रोग के खतरे को और बढ़ा सकता है। अध्ययनकर्ताओं के मुताबिक वजन घटाना, टाइप-2 मधुमेह को प्रबंधित करने के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक है। इसके अलावा लो-कार्ब डाइट का सेवन बढ़ाना चाहिए, यह न सिर्फ शरीर के वजन को नियंत्रित करती है साथ ही ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी इसे सहायक माना जाता है।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it