भारत

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह: 'दुनिया के लिए सख्त संदेश थी भारत की सर्जिकल स्ट्राइक'

Kunti
14 Oct 2021 6:42 PM GMT
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह: दुनिया के लिए सख्त संदेश थी भारत की सर्जिकल स्ट्राइक
x
आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि पांच साल पहले भारत द्वारा की गई

पणजी, आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि पांच साल पहले भारत द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक दुनिया को इस बात का सख्त संदेश थी कि कोई भी हमारी सीमा पर दखल नहीं दे सकता। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली राजग सरकार आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दे रही है, जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाली संप्रग सरकार के दौरान ऐसा नहीं होता था।

शाह दक्षिणी गोवा के धारबंदोरा गांव में नेशनल फोरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखने के बाद लोगों को संबोधित कर रहे थे। गृह मंत्री ने कहा, संप्रग के शासन काल में आतंकी सीमा के किसी हिस्से से देश में घुस आते थे और अशांति फैलाते थे। इसके बावजूद केंद्र सरकार कुछ नहीं करती थी। लेकिन अब भारत सरकार उसी भाषा में जवाब देती है, जो आतंकियों की समझ में आती है। पांच साल पहले की सर्जिकल स्ट्राइक का हवाला देते हुए शाह ने कहा कि इसके जरिये भारत ने दुनिया को सख्त संदेश दिया कि कोई हमारी सीमा पर दखल नहीं दे सकता।
उल्लेखनीय है कि जम्मू-कश्मीर के उड़ी सेक्टर में आर्मी बेस पर आतंकी हमले के बाद भारत ने 29 सितंबर, 2016 को नियंत्रण रेखा के पार जाकर आतंकियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। शाह ने भाजपा के वरिष्ठ नेता मनोहर पर्रीकर के रक्षा मंत्री के तौर पर योगदान को भी याद किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सैन्य बलों में वन रैंक वन पेंशन लागू करने के लिए पर्रीकर को वर्षो तक याद किया जाएगा।
अमित शाह ने कहा कि जिन अपराधों में छह साल या इससे ज्यादा की सजा का प्रविधान है, उनमें फोरेंसिक टीम के घटनास्थल पर जाने को सरकार अनिवार्य बनाने पर विचार कर रही है। शाह ने यह भी कहा कि फोरेंसिक विज्ञान के क्षेत्र में प्रशिक्षित लोगों की कमी है। इसके चलते सजा दिलाने का काम प्रभावित होता है और मामलों का ढेर लग जाता है। उन्होंने कहा, हमें दुर्दात अपराधियों के मन में डर बिठाने की जरूरत है कि अपराध करने पर वे सलाखों के पीछे होंगे। इसके लिए फोरेंसिक विज्ञान के क्षेत्र में प्रशिक्षित लोगों की संख्या बढ़ाने की जरूरत है।पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को किया याद
अमित शाह ने पूर्व रक्षा मंत्री और गोवा में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को याद किया। उन्होंने कहा कि पूरा देश पर्रिकर को दो चीजों के लिए हमेशा याद करेगा। उन्होंने गोवा को उसकी पहचान दी और दूसरा उन्होंने तीनों सेनाओं को वन रैंक, वन पेंशन दिया।
वहीं, गृह मंत्री अमित शाह ने विश्वास जताया कि सत्तारूढ़ भाजपा अगले साल फरवरी में होने वाले गोवा विधानसभा चुनाव में 'पूर्ण बहुमत' से जीतेगी और राज्य में एक बार फिर सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा कि गोवा और केंद्र में भाजपा सरकारों के डबल इंजन से राज्य के विकास में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि पर्यटन पर निर्भर राज्य में 15 नवंबर से चार्टर्ड उड़ानें पहुंचनी शुरू हो जाएंगी। अभी भी चुनाव का समय है, लेकिन मैं गोवा के लोगों से अपील कर रहा हूं कि वे केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राज्य में भाजपा सरकार चुनने का मन बना लें।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it