भारत

बच्ची बिल्डिंग से गिरी, मोबाइल में खेल रही थी गेम, पढ़े पूरा माजरा

jantaserishta.com
27 May 2022 10:51 AM GMT
बच्ची बिल्डिंग से गिरी, मोबाइल में खेल रही थी गेम, पढ़े पूरा माजरा
x
उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

सूरत: गुजरात के सूरत में मोबाइल में गेम खेलते हुए एक बच्ची बिल्डिंग के तीसरे फ्लोर की बालकनी से नीचे गिर गई. बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गई थी, उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है.

घटना सूरत शहर के डिंडोली इलाके की है. यहां सेवन हाइट्स नाम की बिल्डिंग के तीसरे फ्लोर पर रहने वाले एक परिवार में शादी को लेकर तैयारियां चल रही थीं. शादी में शामिल होने के लिए बाहर से रिश्तेदार भी आए हुए थे. इन्हीं में से एक विपिन पॉलिक भी सह परिवार शादी में शरीक होने के लिए आए थे. घर में सब लोग अपने अपने काम में मशगूल थे. उस समय विपिन की तीन साल की बच्ची मान्यता फ्लैट की बालकनी में मोबाइल गेम खेल रही थी. गेम खेलते-खेलते बच्ची अचानक बालकनी से नीचे जा गिरी. तीसरी मंजिल से नीचे करते समय बच्ची कई जगह टकराई, जिसकी वजह से वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी. बच्ची के परिजन उसे नजदीकी निजी अस्पताल में लेकर गए, वहां से डॉक्टर्स ने उसे बड़े अस्पताल में रेफर कर दिया.
इसके बाद परिजनों ने दूसरे अस्पताल ले जाने के लिए 108 एंबुलेंस से संपर्क किया था. मौके पर पहुंची 108 एंबुलेंस की ईएमटी सरिता वाणा ने देखा कि बच्ची को निजी अस्पताल से निकालकर एंबुलेंस तक ले जाने के लिए ऑक्सीजन की जरूरत है, लेकिन ऑक्सीजन की कोई व्यवस्था नहीं थी. 108 एंबुलेंस की इएमटी सरिता वाणा ने बच्ची को ऑक्सीजन देने हेतु माउथ टू माउथ स्वांस देते हुए एंबुलेंस तक ले गई थी. इससे पूर्व ईएमटी सरिता ने एंबुलेंस के ड्राइवर नरेश भूरिया को बिना देरी किए एंबुलेंस की ऑक्सीजन सिस्टम शुरू करने के लिए सूचना पहले ही दे दी थी.
एंबुलेंस के स्टाफ की समय सूचकता के चलते 3 वर्षीय बच्ची मान्यता पोलिक को सूरत महानगर पालिका संचालित में स्मीमेर अस्पताल ले जाया गया था. वहां भी एंबुलेंस से उतारकर अस्पताल के इमरजेंसी बोर्ड तक ले जाने तक सरिता वाणा ने बच्ची को माउथ टु माउथ ऑक्सीजन दिया. इसके बाद बच्ची को अस्पताल के डॉक्टरों ने भर्ती कर इलाज शुरू किया. बच्ची की हालत फिलहाल नाजुक बताई जा रही है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta