राजस्थान

आकाशीय बिजली का कहर: मारे गए 41 लोग, पीएम मोदी ने व्यक्त की संवेदना

Admin1
12 July 2021 2:38 AM GMT
आकाशीय बिजली का कहर: मारे गए 41 लोग, पीएम मोदी ने व्यक्त की संवेदना
x
सरकार की ओर से 5 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया गया है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और राजस्थान (Rajasthan) में बिजली गिरने (Lightning) से करीब 61 लोगों की मौत (Death Toll) हो गई है. अकेले उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में बिजली गिरने से 41 लोगों की मौत हुई. सबसे ज्यादा मौतें प्रयागराज (Prayagraj) जिलें में हुई.

यूपी सरकार के मुताबिक, प्रयागराज में सबसे ज्यादा 14 लोगों की मौत बिजली गिरने से हुई है. कानपुर देहात और फतेहपुर में 5-5 मौतें, कौशांबी में 4 लोगों की मौत, फिरोजाबाद में 3 लोगों की मौत, उन्नाव-हमीरपुर-सोनभद्र में 2-2 लोगों की मौत, कानपुर नगर-प्रतापगढ़-हरदोई-मिर्जापुर में 1-1 व्यक्ति की जान गई है
इसके अलावा 22 लोग झुलसे हैं, जबकि 200 से ज्यादा मवेशियों की भी मौत हुई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तत्काल सहायता राशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं. बता दें कि रविवार देर शाम उत्तर प्रदेश के कई जिलों में मौसम खराब हो गया था. बारिश के साथ ही कई जगहों पर बिजली गिरने की घटना हुई थी.
वहीं, राजस्थआन में बिजली गिरने से करीब 20 लोगों की मौत हो गई. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक राजस्थान में रविवार को आसमानी बिजली गिरने से मरने वालों की संख्या 20 पहुंच गई है. इनमें जयपुर में 11, धौलपुर में 3, कोटा में 4, झालावाड़ में 1 और बारां में 1 लोगों की मौत हुई है.
मृतकों के परिजनों को राजस्थान सरकार की ओर से 5 लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान किया गया है. इसमें से 4 लाख इमरजेंसी रिलीफ फंड से और 1 लाख सीएम रिलीफ फंड से दिया जाएगा. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिजली गिरने से जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि देते हुए उनके परिवार को तत्काल मदद का निर्देश दिया है.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it