जम्मू और कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में वर्ष 2021 में 229 बार हुई आतंकी घटनाएं

Kunti Dhruw
18 Feb 2022 6:47 PM GMT
जम्मू-कश्मीर में वर्ष 2021 में 229 बार हुई आतंकी घटनाएं
x
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा स्थिति को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

नई दिल्ली, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा स्थिति को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में अमित शाह ने सुरक्षा ग्रिड को मजबूत करने का निर्देश दिए। ताकि सीमा पार से शून्य घुसपैठ की गतिविधियों को सुनिश्चित करने के साथ आतंकवाद का जड़ से समाप्त हो सके।

बैठक में सुरक्षा एजेंसियों की सरहाना
शुक्रवार को नई दिल्ली में जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा स्थिति को लेकर हुई समीक्षा बैठक में गृह मंत्री ने सुरक्षा एजेंसियों के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि बेहतर प्रयासों के कारण ही पिछले कुछ वर्षों में जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं में कमी आई है। अमित शाह ने देखा कि आतंकी घटनाओं की संख्या में कमी आई है। जहां साल 2018 में 417 आतंकी घटनाएं हुईं, वहीं साल 2021 में घटकर ये 229 हो गई हैं। वहीं सुरक्षा बलों की शहादत को लेकर बताया कि साल 2018 में कुल 91 जवान शहीद हुई, यह संख्या साल 2021 में घटकर 42 हो गई है।
बैठक में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, अजीत डोभाल समेत सेना और जम्मू-कश्मीर सरकार सहित भारत सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

धारा 370 हटाए जाने के बाद घाटी में विकास तेज

देश की केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में विकास को लेकर कई तरह की पहल की हैं। खास तौर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद यहां सरकार ने कई योजनाओं का क्रियान्वयन किया है। यहां राष्ट्रीय राजमार्ग को चौड़ा करने का प्रोजेक्ट जोरों पर है, साथ ही रेलवे लाइन समेत जम्मू-अखनूर हाईवे का विस्तारीकरण, नई टनलों का निर्माण, घाटी के लिए दो एम्स, आइआइटी, आइआइएम, जम्बू जू सरीखी परियोजनाओं का काम लगातार जारी है।
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने बजट सत्र के दौरान राज्यसभा में बताया था कि जम्मू कश्मीर में विभिन्न योजनाओं के तहत 1,41,815 नए कार्य और प्रोजेक्ट शुरू किए गए हैं। लद्दाख में करीब 17,556 नए प्रोजेक्ट क्रियान्वयित किए गए। जम्मू-कश्मीर इन कामों को पूरा करने के लिए करीब 27,274 करोड़ रुपये और लद्दाख के लिए 3097.14 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं। इसके अलावा ग्रामीण इलाकों में विकास के लिए जम्मू कश्मीर के लिए 19142.63 करोड़ और लद्दाख के लिए 1810.97 करोड़ रुपये आवंटित किए गए।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta