जम्मू और कश्मीर

गृह मंत्री अमित शाह के दौरे को लेकर शहर में सुरक्षा कड़ी, अतिरिक्त अर्धसैनिक बल तैनात

Renuka Sahu
22 Oct 2021 4:50 AM GMT
गृह मंत्री अमित शाह के दौरे को लेकर शहर में सुरक्षा कड़ी, अतिरिक्त अर्धसैनिक बल तैनात
x

फाइल फोटो 

गृहमंत्री अमित शाह के जम्‍मू-कश्‍मीर दौरे से पहले घाटी की सुरक्षा व्‍यवस्‍था कड़ी कर दी गई है.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) के जम्‍मू-कश्‍मीर (Jammu-Kashmir) दौरे से पहले घाटी की सुरक्षा व्‍यवस्‍था (Security Arrangements) कड़ी कर दी गई है. घाटी की सुरक्षा समीक्षा के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर में अतिरिक्त सुरक्षा बलों (Paramilitary Forces) को तैनात किया गया है. अकेले श्रीनगर में अर्धसैनिक बलों की 20 से 25 अतिरिक्त कंपनियां तैनात की गई हैं.

अधिकारियों ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह के दौरे को देखते हुए सुरक्षा समीक्षा की गई है, जिसके बाद श्रीनगर में और सैनिकों को तैनात करने का निर्णय लिया गया है. खुफिया इनपुट से पता चला है कि गृहमंत्री शाह के दौरे को रोकने के लिए आतंकवादी किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं.
बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह 23 से 25 अक्टूबर तक जम्मू-कश्मीर के दौरे पर रहेंगे. 5 अगस्त, 2019 को जम्मू-कश्‍मीर के विशेष राज्‍य के दर्जे को समाप्‍त करने के बाद से गृहमंत्री अमित शाह की ये पहली यात्रा है. बता दें कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के साथ ही लद्दाख को एक अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया था. बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह 23 अक्‍टूबर को घाटी में एकीकृत कमान की बैठक में हिस्‍सा लेंगे जबकि 24 को जम्मू में एक जनसभा को संबोधित करेंगे.
अधिकारियों ने बताया कि जम्‍मू-कश्‍मीर दौरे के दौरान वह विभिन्न उद्योग निकायों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात करेंगे. गृह मंत्री के 23 अक्‍टूबर को श्रीनगर से शारजाह सीधी विमान सेवा को हरी झंडी दिखाएंगे. बता दें कि जम्‍मू-कश्‍मीर में हाल ही में हुई नागरिकों की हत्‍या के मामले में गृह मंत्रालय सीधे तौर पर निगरानी कर रहा है. गृह मंत्री खुद नागरिकों की हत्या के मामले में नियमित अपडेट ले रहे हैं. अधिकारियों को स्‍पष्‍ट निर्देश दिया गया है कि जल्‍द से जल्‍द ऐसे कदम उठाए जाएं जिससे निर्दोष नागरिकों की हत्या करने वालों को न्याय के कटघरे में लाया जाए.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it