जम्मू और कश्मीर

पीएजीडी जम्मू-कश्मीर में मिलकर लड़ेगा विधानसभा चुनाव, फारूक और महबूबा ने की घोषणा

Renuka Sahu
5 July 2022 3:29 AM GMT
PAGD will contest assembly elections together in Jammu and Kashmir, announced by Farooq and Mehbooba
x

फाइल फोटो 

नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी ने कहा कि गुपकार घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) जम्मू-कश्मीर में मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेगा।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी ने कहा कि गुपकार घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) जम्मू-कश्मीर में मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ेगा। ये दोनों पार्टियां पीएजीडी के मुख्य घटक दल हैं। नेकां अध्यक्ष एवं पीएजीडी के प्रमुख डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि हम एक साथ चुनाव लड़ेंगे। जम्मू-कश्मीर पीपुल्स मूवमेंट का नाम लिए बगैर कहा कि एक राजनीतिक दल है, जिसने कहा कि उसने गठबंधन छोड़ दिया है। सच्चाई यह है कि वे कभी गठबंधन का हिस्सा नहीं थे। वे हमें भीतर से तोड़ने आए थे।

सरकार जब चाहे चुनाव करा सकती है
कहा, सरकार जब चाहे चुनाव करा सकती है। जब बाढ़ आई थी तब भी चुनाव हुए थे तो अब क्यों नहीं हो सकते? सवाल यह है कि वे चुनाव कैसे लड़ना चाहते हैं। वहीं पीडीपी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी कहा कि हम एक साथ चुनाव लड़ने का इरादा रखते हैं। क्योंकि यह लोगों की इच्छा है कि हमें अपनी खोई हुई गरिमा की बहाली के लिए मिलकर प्रयास करना चाहिए।
विधानसभा चुनाव कराने की तैयारी तेज
ज्ञात हो कि चुनाव आयोग ने केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव कराने की तैयारियों को तेज कर दिया है। इसने जम्मू व कश्मीर में परिसीमन अभ्यास के बाद मतदाता सूचियों में संशोधन शुरू किया है। माना जा रहा है कि अंतिम मतदाता सूची तैयार होने के बाद विधानसभा चुनाव हो सकते हैं।
अमरनाथ यात्रियों का कश्मीर ने हमेशा किया स्वागत
अमरनाथ यात्रा के बारे में डॉ. फारूक ने कहा कि कश्मीर के लोगों ने वर्षों से तीर्थयात्रा के सुचारु संचालन को पूरे दिल से सुनिश्चित किया है। कश्मीर के लोगों ने अमरनाथ यात्रियों का हमेशा स्वागत किया। गुफ ा की खोज करने वाला व्यक्ति पहलगाम का रहने वाला मुसलमान था। कभी भी मुसलमान ने किसी धर्म के खिलाफ उंगली नहीं उठाई है, वे भाईचारे में रहे। मैं मानता हूं कि 90 के दशक में वह हवा आई, पर वह हमारी हवा नहीं थी। वह कहीं और से आई थी और उसका खामियाजा हम आज भी भुगत रहे हैं।
अच्छा होगा कि लोग अपने दम पर हर घर में फहराएं तिरंगा
डॉ.अब्दुल्ला ने कहा, सरकार हर घर में राष्ट्रीय ध्वज फ हरा सकती है। लेकिन यह बहुत अच्छा होगा जब लोग अपने दम पर तिरंगा फहराएं न कि फ रमान के कारण। फरमानों से कभी तिरंगा उड़ नहीं सकता, तिरंगा दिल में होना चाहिए तब बात बनेगी। फारूक ने कहा कि अगर इस मुल्क ने तरक्की करनी है तो यह मोहब्बत से संभव है। जब हम लोग विविधता को नहीं भूलेंगे। यह मुल्क सांस्कृतिक, भाषाई आदि तौर पर विविध है।
आने वाला समय अच्छा देख रहा:अब्दुल्ला
हमें इस विविधता को सुरक्षित रखना है और तभी यह मुल्क आबाद रहेगा। देश में धर्म के नाम पर पैदा होने वाले हालातों को लेकर उन्होंने कहा कि शैतान हर वक्त रहा है और हर वक्त रहेगा। मगर यहां शैतान बहुत कम हैं और अल्लाह के बंदे बहुत ज़्यादा। मुझे उम्मीद है कि वह शैतान को बाहर निकाल देंगे। मैं आने वाला समय अच्छा देख रहा हूं। उन्होंने कहा कि यहां लोकतंत्र ही चलेगा।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta