हरियाणा

यमुनानगर: दूसरे दिन भी आयकर विभाग की कार्रवाई जारी, कारोबारियों के खंगाले बैंक खाते, करोड़ों की नकदी-गहने मिले

Renuka Sahu
13 Jan 2022 5:24 AM GMT
यमुनानगर: दूसरे दिन भी आयकर विभाग की कार्रवाई जारी, कारोबारियों के खंगाले बैंक खाते, करोड़ों की नकदी-गहने मिले
x

फाइल फोटो 

हरियाणा के यमुनानगर में विभिन्न राज्यों से आई आयकर विभाग की 11 टीमों का सर्वे दूसरे दिन भी जारी रहा।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। हरियाणा के यमुनानगर में विभिन्न राज्यों से आई आयकर विभाग की 11 टीमों का सर्वे दूसरे दिन भी जारी रहा। ये टीमें इनेलो के पूर्व विधायक दिलबाग सिंह समेत उनके बिजनेस सहयोगियों घरों में भी डटी रहीं। बुधवार देर शाम तक पूर्व विधायक व कई नामी कारोबारियों समेत करीब 15 फैक्टरियों में आयकर विभाग की कार्रवाई जारी रही।

दिनभर आयकर विभाग के अधिकारियों के वाहन कारोबारियों के घरों व फैक्टरियों के बाहर खड़े रहे। बताया जा रहा है कि छापामारी के दौरान कुछ जगह से करोड़ों रुपये की नकदी व गहने मिले हैं। जिनकी जांच टीमों द्वारा की जा रही है। लेकिन आयकर विभाग के अधिकारी इस संबंध में फिलहाल कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। उनका कहना है कि जब तक कार्रवाई पूरी नहीं होती तब तक कुछ नहीं कहा जा सकता।
मंगलवार सुबह हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर से आयकर विभाग की 11 टीमें यमुनानगर पहुंची थी। इस दौरान टीम के सदस्यों ने पूर्व विधायक दिलबाग के फ्रेंडस कॉलोनी स्थित आवास, जोडियो, पांसरा, बाड़ी माजरा, जठलाना समेत कई स्थानों पर करीब 15 प्लाईवुड फैक्टरियों में छापामारी की थी, जो कि अभी तक जारी है। इसके अलावा बुधवार को भी इन टीमों ने शहर के कई नामी कारोबारियों के घरों पर भी छापामारी की। बताया जा रहा है कि जिनके यहां छापामारी हुई, उनमें अधिकतर पूर्व विधायक दिलबाग सिंह और उसके भाईयों के बिजनेस सहयोगी शामिल हैं।
टीम ने यहां से कारोबारियों के कंप्यूटर, लैपटॉप, डायरी, मोबाइल, व्हाट्सएप चैट, बैंक खाते, नकदी, आभूषण व दस्तावेजों की जांच की। बुधवार देर शाम तक टीमें जांच में जुटी रहीं। बताया जा रहा है कि कुछ जगह से करोड़ों रुपये की नकदी व गहने मिले हैं। जिनकी देर शाम तक जांच जारी थी।
फैक्टरियों पर ताले लगा बंद किए मोबाइल
इस छापामारी से प्लाईवुड कारोबारियों में गत दिवस से ही हड़कंप मचा हुआ है। धीरे-धीरे प्लाईवुड फैक्टरियों व उनके कार्यालयों पर ताले लटकने शुरू हो गए हैं। इतना ही नहीं कार्यालयों पर ताला जड़ने के बाद उद्योगपतियों ने अपने मोबाइल तक बंद कर लिए और वह शहर छोड़कर इधर-उधर निकल गए हैं। बाहर से ही कारोबारी जिले में चल रही आयकर विभाग की कार्रवाई की सूचनाएं इधर-उधर से एकत्रित कर रहे हैं।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta