Top
लाइफ स्टाइल

वैज्ञानिक का दावा, वॉक करते समय आप कितनी स्पीड से चल रहे हैं, शरीर पर पड़ता है इसका असर

Rishi kumar sahu
21 Nov 2020 2:17 PM GMT
वैज्ञानिक का दावा, वॉक करते समय आप कितनी स्पीड से चल रहे हैं, शरीर पर पड़ता है इसका असर
x
कई रिसर्च में यह साबित हो चुका है कि पैदल चलते हैं तो कई तरह से शरीर को फायदा पहुंचता है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। ब्लड प्रेशर घटाना है तो 3 मिनट वॉक करें और शरीर की चर्बी कम करनी है तो खाना खाने के बाद 30 मिनट पैदल चलें। कई रिसर्च में यह साबित हो चुका है कि पैदल चलते हैं तो कई तरह से शरीर को फायदा पहुंचता है। वैज्ञानिक कहते हैं, वॉक करते समय आप कितनी स्पीड से चल रहे हैं, शरीर पर इसका भी असर पड़ता है। जानिए, वॉकिंग से जुड़ी रिसर्च क्या कहती हैं....

वॉक बढ़ाती है आपकी मेमोरी

6 हजार महिलाओं पर हुई कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी की स्टडी कहती है, अगर एक महिला 4 किलोमीटर रोजाना वॉक करती है तो उसकी मेमोरी घटने का खतरा 17 फीसदी तक घट जाता है। इसे आम भाषा अल्जाइमर्स भी कहते हैं।


रात में नींद नहीं आती तो सुबह एक घंटे पैदल चलें

वैज्ञानिकों का कहना है, रात की नींद और सुबह पैदल चलने के बीच कनेक्शन है। अमेरिका के फ्रेड हचिंसन रिसर्च सेंटर ने इस पर रिसर्च की। रिसर्च में सामने आया कि 50 से 75 साल की उम्र वाले लोग अगर सुबह 1 घंटे की मॉर्निंग वॉक करते हैं तो अनिद्रा की समस्या दूर हो जाती है।

ब्रिटिश जर्नल स्पोर्ट्स में प्रकाशित रिसर्च के मुताबिक, पैदल चलने से शरीर में दर्द को खत्म करने वाला एंडॉर्फिन हार्मोन रिलीज होता है जो कई तरह से फायदा पहुंचाता है।

पैदल चलने के ये फायदे भी समझ लीजिए

वैज्ञानिकों का कहना है, पैदल चलने से ब्रेन ब्लड का सर्कुलेशन बढ़ता है। इसे समझने के लिए 1999 में 60 लोगों पर रिसर्च की गई। उन्हें एक दिन में 45 मिनट की वॉक कराया गया। 15 मिनट सामान्य चलने के बाद उन्होंने अपनी क्षमता के मुताबिक स्पीड बढ़ाई। रिजल्ट में सामने आया कि जिन्होंने रोजाना ऐसा किया वो दिमागी तौर पर स्वस्थ रहे।

रिसर्चर्स का कहना, पैदल चलने से ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर कंट्रोल होता है। इससे हार्ट डिसीज, डायबिटीज और फेफड़ों से जुड़ी बीमारियों का खतरा घटता है।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it