लाइफ स्टाइल

खाना ठीक से न चबाकर खाना इन 11 समस्याओं को न्योता देता है, कभी न करें ऐसी गलती

Bhumika Sahu
18 Jun 2022 9:46 AM GMT
खाना ठीक से न चबाकर खाना इन 11 समस्याओं को न्योता देता है, कभी न करें ऐसी गलती
x
हम बचपन से सुनते आ रहे हैं कि खाने को अच्छी तरह से चबा कर खाना चाहिए।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। हम बचपन से सुनते आ रहे हैं कि खाने को अच्छी तरह से चबा कर खाना चाहिए। लेकिन हम बदलते वक्त के साथ साथ इस नियम को भूलते जा रहे है। अब सवाल ये है कि भोजन को चबाना क्यों जरूरी है? आपको बता दें कि आप जो कुछ भी खाते हैं उसका सीधा संबंध आपके पेट और आंतों से जुड़ा होता है। पाचन की पूरी प्रक्रिया मुंह में चबाने से शुरू हो जाती है। यह डाइजेशन की पहली स्टेज मानी जाता है। विशेषज्ञों के अनुसार जब आप भोजन चबाते हैं, तो यह छोटे-छोटे टुकड़ों में टूट जाता है । जब लार को इन छोटे टुकड़ों के साथ मिलाया जाता है, तो इसे आगे की प्रक्रिया के लिए पेट में भेज दिया जाता है। अच्छी तरह से चबा-चबाकर खाने से भोजन आपके शरीर को लगता है और आप कम भी खाते हैं। ऐसे में यदि फूड को ठीक से चबाया नहीं जाता है और हम भोजन को जल्दी निगल जाते हैं इससे डाइजेशन पर बेहद बुरा असर होता है।

विशेषज्ञ खाना निगलने से पहले 32 बार चबाने की सलाह देते हैं। नरम और पानी युक्त भोजन को कम चबाने की जरूरत पड़ती है। वैसे चबाने का मकसद आपके भोजन को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ना है, ताकि आप इसे ठीक से पचा सकें। विशेषज्ञ कहते हैं कि 32 बार चबाने का नियम कई प्रकार के भोजन पर लागू होता है। आमतौर पर व्यक्ति को नरम चीजों के सेवन के लिए ज्यादा चबाने की जरूरत नहीं होती है। वहीं कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे भी होते हैं, जिन्हें व्यक्ति को 40 बार चबाना होता है। वो खाद्य पदार्थों में जैसे- बदाम, काजू आदि आते हैं, वहीं अगर आप आम, तरबूज, संतरा आदि फल का सेवन कर रहे हैं तो आपको केवल 10 से 15 बार ही खाना चबाना पड़ता है। भोजन को अच्छे से चबाकर खाने से शरीर को जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं और पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है, जिससे गैस, पेट में जलन, पेट में सूजन आदि से भी छुटकारा मिलता है। व्यक्ति अपने भोजन को अच्छे से चबाकर खाएं तो वह मोटापे और जमा चर्बी की समस्या को भी खुद से दूर रख सकता है।
भोजन को जल्दी में न निगलें
जब आप भोजन को पर्याप्त रूप से नहीं चबाते, तो आपका बाकी पाचन तंत्र भ्रमित हो जाता है। आपका शरीर आपके भोजन को तोडऩे के लिए जरूरी एंजाइम का पर्याप्त उत्पादन नहीं करता। इससे सूजन, दस्त, पेट में जलन, ऐंठन, चिड़चिड़ापन, कुपोषण, खट्टी डकार, गैस जैसी पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। आज के इस लेख में हम उन्हीं समस्याओं के बारे में बताएंगे कि खाना ठीक से न चबाकर खाने से सेहत को क्या-क्या नुकसान होते हैं। इसके साथ ही आप खाना ठीक से चबाकर खाने के फायदे भी जानेंगे। कहा जाता है जो काम दांत को करना है उसका बोझ पेट के ऊपर न डालें, मतलब अगर आप भोजन को सही तरीके से चबाएंगे तो पेट का काम आसान होगा और गैस की समस्या नहीं होगी।
भोजन को अच्छे से न चबाने के नुकसान?
- अगर आप भोजन को अच्छे से नहीं चबाएंगे तो पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
- खाने को अच्छे से न चबाने के कारण शरीर को जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं।
- भोजन को कम चबाने के की वजह से इंसान चिड़चिड़ापन महसूस कर सकता है।
- जब कोई इंसान भोजन को कम चबाएगा तो उसे खट्टी डकार आनी शुरू हो सकती हैं।
- भोजन को कम चबाने के कारण व्यक्ति को पेट में जलन और गैस की समस्या भी हो सकती है।
- पेट में सूजन का एक कारण भोजन को कम चबाना भी है।
- सही तरीके से भोजन को न चबाने के कारण व्यक्ति को दस्त की समस्या भी हो सकती है।
- ऐसी ही आदतों की वजह त्वचा संबंधित समस्याओं का भी शिकार हो सकता है।
- अगर व्यक्ति अपना भोजन कम चबाता है तो वह कुपोषण से भी ग्रस्त हो सकता है।
- जी मिचलाना भी इसी आदत का नतीजा हो सकता है।
- ठीक से भोजन को न चबाने के कारण व्यक्ति सिर दर्द महसूस कर सकता है।
भोजन को अच्छे से चबाकर खाने के फायदे?

- सही तरह से चबाते हुए भोजन करने से भोजन कई टुकड़ों में टूट जाता है और सलाइवा के साथ मिलकर एसोफैगस में चला जाता है। एसोफैगस भोजन को आपके पेट तक पहुंचाता है।
- चबा-चबाकर खाने से पाचन तंत्र खाना पचाने के लिए खुद को तैयार करता है।
- भोजन को 32 बार चबाकर खाने से एक फायदा यह भी है कि आप भोजन का स्वाद देर तक ले पाते हैं।
- भोजन को देर तक चबाकर खाने से अधिक पोषक तत्व और ऊर्जा को अवशोषित होने में मदद मिलती है।
- आप भोजन को जितनी ज्यादा बार चबाएंगे, आपका ज्यादा हेल्दी वेट मेंटेन कर पाएंगे।
- चबा-चबाकर भोजन करना आपके दांतों की सेहत के लिए अच्छा है। इससे दांतों की एक्सरसाइज हो जाती है।
- अच्छी तरह से खाना चबाने पर आंतों में बैक्टीरिया पनपने की संभावना बहुत कम होती है।
खाने के अन्य टिप्स
- खाने से 30 मिनट पहले या बाद में पानी पीना चाहिए, लेकिन भोजन कर्तेसमय पानी का सेवन न करें। इससे आपके पाचन क्रिया को नुकसान पहुंचता है।
- खाने के तुरंत बाद कॉफी नहीं पीना चाहिए। इससे पाचन मे तेजी के कारण बार-बार पेशाब आ सकती है।
- मिठाई का सेवन भोजन के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए। मीठे खाद्य पदार्थ जल्दी पच जाते हैं, जो गैस और सूजन का कारण बनते हैं।
- भोजन के बाद व्यायाम करने से बचना चाहिए।
- कच्ची या थोड़ी उबली हुई सब्जियां खाएं। अच्छे पाचन के लिए यह जरूरी है।
AIIMS ने भी चबाने को लेकर दी हेल्थ वार्निंग
हाल ही में दिल्ली में मोमोज खाने के दौरान एक 50 साल के व्यक्ति की मौत हो गई है। एम्स के मुताबिक, उस व्यक्ति ने मोमोज को बिना चबाए निगल लिया था, जिससे उसका दम घुट गया और वो मर गया। मोमोज को बिना चबाए निगलना खतरनाक हो सकता है इसको लेकर एम्स ने हेल्थ वार्निंग जारी कर दी है।
एम्स ने बताया कि दिल्ली के जिस 50 साल के शख्स की मोमोज खाने से मौत हुई है, उसकी मेडिकल जांच में पता चला कि उसकी सांस की नली में मोमो फंस गया था जिससे उसकी मौत हो गई थी। मोमोज के अटकने के बाद दम घुटने और उससे Neurogenic Cardiac Arrest होने की वजह से शख्स की मौत हो गई।
इस एडवाइजरी में कहा गया कि मोमोज चिकना और फिसलने वाला होता है। यदि कोई मोमोज को ठीक से नहीं चबाएगा और उसे निगल लेगा तो उसका दम घुट सकता है। इसलिए हमेशा मोमो को अच्छे से चबा कर के खाएं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta