लाइफ स्टाइल

सेहत के लिए फायदेमंद है दालचीनी, जानिए

Sandhya Yadav
26 Nov 2021 8:36 AM GMT
सेहत के लिए फायदेमंद है दालचीनी, जानिए
x
सर्दियों का मौसम कई मामलों में खास होता है। तमाम तरह की फल-सब्जियों के साथ खाने-पाने के लिए उपलब्ध चीजें इस मौसम को बेहद खास बनाती हैं,

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। सर्दियों का मौसम कई मामलों में खास होता है। तमाम तरह की फल-सब्जियों के साथ खाने-पाने के लिए उपलब्ध चीजें इस मौसम को बेहद खास बनाती हैं, हालांकि इसी के साथ यह मौसम सेहत के लिहाजे से काफी चुनौतीपूर्ण भी होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक ठंड के मौसम में शरीर की सुरक्षा करना बहुत आवश्यक होता है, विशेषकर बच्चों और बुजुर्गों के लिए विशेष सावधानी बरतना और भी आवश्यक हो जाता है। यही कारण है कि इस मौसम में उन चीजों के सेवन पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होती है जो शरीर को अंदर से गर्म रखने के साथ कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकें।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक दालचीनी का सेवन करना सेहत के लिए विशेष लाभदायक हो सकता है। इसमें मौजूद औषधीय गुण न सिर्फ आपको अंदरूनी गर्मी का एहसास देंगे साथ ही यह सर्दी-जुकाम जैसे समस्याओं को ठीक करने में भी कारगर मानी जाती है। आइए आगे की स्लाइडों में दालचीनी से सेहत को होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं।
सर्दी-जुकाम से मिलती है राहत
दालचीनी का मसाले या काढ़े में मिलाकर सेवन करना आपके लिए बेहद लाभदायक हो सकता है। ठंड के मौसम में होने वाली सर्दी-जुकाम की समस्या को दूर करने में दालचीनी का सेवन करना लाभदायक माना जाता है। इसमें पॉलीफेनोल्स और प्रोएंथोसायनिडिन एंटीऑक्सिडेंट्स की भरपूर मात्रा होती है जो आपकी इम्यूनिटी को स्वाभाविक रूप से बढ़ाने में सहायक है। यह एंटीवायरल, जीवाणुरोधी और एंटीफंगल गुणों से भी युक्त मानी जाती है।
एंटीऑक्सिडेंट्स का बेहतर स्रोत
दालचीनी में एंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा अधिक होती है जो आपके शरीर को फ्री रेडिकल्स से होने वाले ऑक्सीडेटिव डैमेज से बचाती है। 26 मसालों के एंटीऑक्सीडेंट्स गुणों को लेकर किए गए एक अध्ययन में वैज्ञानिकों ने दालचीनी को सबसे बेहतर पाया। कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से सुरक्षा देने में भी दालचीनी का सेवन करना लाभदायक हो सकता है।
संक्रमण से रखती है सुरक्षित
दालचीनी के मुख्य सक्रिय कंपाउड्स में से एक सिनामाल्डिहाइड इसे विभिन्न प्रकार के संक्रमण से लड़ने में असरदार बनाती है। दालचीनी का तेल, फंगस के कारण होने वाले श्वसन पथ के संक्रमण को ठीक करने में सहायक मानी जाती है। यह लिस्टेरिया और साल्मोनेला सहित कई प्रकार के बैक्टीरिया को बढ़ने से रोकने में भी सहायक मानी जाती है।
एचआईवी जैसे वायरस से मुकाबले में कारगर
एचआईवी एक ऐसा वायरस है जो धीरे-धीरे आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर बना देता है, जो अंततः एड्स का कारण बन सकती है। माना जाता है कि दालचीनी की कुछ किस्में एचआईवी-1 वायरस से लड़ने में मदद करती हैं। एचआईवी संक्रमित कोशिकाओं को लेकर किए गए एक प्रयोगशाला अध्ययन में पाया गया कि दालचीनी इसमें सबसे प्रभावी उपचार साबित हो सकती है।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it