विश्व

क्या ब्रिटेन करेगा बिजली संकट का सामना? पढ़ें पूरी खबर

Gulabi
13 Oct 2021 12:25 PM GMT
क्या ब्रिटेन करेगा बिजली संकट का सामना? पढ़ें पूरी खबर
x
दुनियाभर में ऊर्जा संकट गहराता जा रहा है

UK Energy Crisis Electricity: दुनियाभर में ऊर्जा संकट गहराता जा रहा है. कहीं कोयले की कमी पड़ रही है तो कहीं प्राकृतिक गैस की. चीन के बाद अब ब्रिटेन में बिजली कटौती का खतरा बढ़ गया है. यहां बीते कई हफ्तों से प्राकृतिक गैस (Natural Gas) के दाम में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. सर्दियों में बिजली की मांग और ज्यादा बढ़ जाएगी. ऐसे में लोगों को डर सता रहा है कि इन्हें भी बिजली कटौती की समस्या का सामना ना करना पड़े. यहां एक तिहाई से ज्यादा बिजली गैस के जरिए ही बनाई जाती है. जिसकी आपूर्ति मांग के अनुरूप नहीं हो रही.


स्टील, कागज, शीशा, सीमेंट और केमिकल सहित दूसरा सामान बनाने वाली ब्रिटिश कंपनियों का कहना है कि बढ़ते दामों के कारण उन्हें अपनी फैक्ट्री बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है या फिर इसका भार ग्राहकों पर डाला जाएगा. इनकी मांग है कि सरकार इन्हें ऊर्जा संकट के बीच राहत दे (Is the UK Facing an Energy Crisis). जिन व्यवसायों में बिजली की ज्यादा खपत होती है, उनके लिए बढ़ते दाम मुश्किलें पैदा कर रहे हैं. सर्दियों के मौसम में हीटर जैसी चीजें ज्यादा चलाई जाएंगी, जिससे दाम और बढ़ने की संभावना है.

महामारी के बाद बढ़ा संकट
ऊर्जा संकट महामारी के बाद से ज्यादा बढ़ गया है और इसने देश की ऊर्जा स्थिति की कमियों को भी उजागर किया है. कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण आर्थिक गतिविधियां थम गई थीं, जिसके चलते दुनियाभर में प्राकृतिक गैस का कम इस्तेमाल हुआ. इसी वजह से इसके दाम भी गिर गए (Electricity Shortage in Britain). लेकिन अब एक बार फिर आर्थिक गितिविधियों में बढ़ोतरी आई है, बिजली की खपत और मांग दोनों बढ़ी हैं. लेकिन यूरोपीय देशों में प्राकृतिक गैस की आपूर्ति मांग के अनुरूप नहीं हो रही. ब्रिटेन में भी आधी बिजली का उत्पादन गैस से होता है. इसलिए ये संकट गहराता जा रहा है.

फैक्ट्रियों में कम हो रहा प्रोडक्शन
यहां सरकार ने अधिकतर कोयला संयंत्रों को बंद कर दिया है. अब गैस की कीमतों में होने वाली बढ़ोतरी का असर, बिजली की आपूर्ति पर पड़ना तय है. यूके स्टील इंडस्ट्री ग्रुप का कहना है कि बिजली के दाम बढ़ने से फैक्ट्रियों में प्रडोक्शन कम होगा. इससे स्टील क्षेत्र प्रभावित होना तय है (UK Energy Crisis Bust). ग्रुप के सदस्यों ने ब्रिटेन सरकार के अधिकारियों से बात की है लेकिन इनके बीच कोई सहमति नहीं बन पाई. दूसरी ओर रूस के राष्ट्रपति व्हादिमीर पुतिन ने कहा है कि वह यूरोप को गैस की सप्लाई करेंगे. इससे पहले यूरोप ने ऊर्जा संकट के लिए रूस की आलोचना की थी. यूरोप का कहना है कि मुश्किल समय में रूस के सप्लाई रोकने के कारण संकट बढ़ा है.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it