Top
विश्व

टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति ने नरसंहार के मजाक को लेकर उद्घाटन समारोह के निर्देशक केंतारो कोबायाशी को किया बर्खास्त

Mohit
22 July 2021 3:19 PM GMT
टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति ने नरसंहार के मजाक को लेकर उद्घाटन समारोह के निर्देशक केंतारो कोबायाशी को किया बर्खास्त
x
टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति ने उद्घाटन समारोह से एक दिन पहले इसके निर्देशक केंतारो कोबायाशी को बर्खास्त कर दिया। दरअसल, केंतारो को इसलिए पद से हटा दिया गया क्योंकि उन्होंने एक बार अपने कॉमेडी शो में होलोकास्ट नाजियों द्वारा यहूदियों के नरसंहार को लेकर मजाक किया था।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :-टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति ने उद्घाटन समारोह से एक दिन पहले इसके निर्देशक केंतारो कोबायाशी को बर्खास्त कर दिया। दरअसल, केंतारो को इसलिए पद से हटा दिया गया क्योंकि उन्होंने एक बार अपने कॉमेडी शो में होलोकास्ट नाजियों द्वारा यहूदियों के नरसंहार को लेकर मजाक किया था। इस बात की जानकारी आयोजन समिति के अध्यक्ष सेइको हाशिमोतो ने दी। उन्होंने कहा, 'हमें पता चला कि केंतारो ने अपने शो में होलोकास्ट का उल्लेख मजाक के संदर्भ में किया था।' उन्होंने कहा, 'उद्घाटन समारोह से एक दिन पहले हुई इस असुविधा के लिए हम क्षमाप्रार्थी हैं।' बता दें कि केंतारो ने 1998 में एक कॉमेडी शो में होलोकास्ट को लेकर मजाक किया था।

कोरोना महामारी के कारण एक साल तक टले टोक्यो ओलंपिक का उद्घाटन समारोह शुक्रवार को होना है। इससे एक सप्ताह पहले एक संगीतकार की भी छुट्टी हो गई थी, जिसने अतीत में अपने सहयोगियों को प्रताड़ित करने के बारे में एक पत्रिका को दिए इंटरव्यू में कुछ बातें कही थीं। इस संगीतकार ने उद्घाटन समारोह के एक हिस्से का संगीत तैयार किया था।
इसी साल मार्च के महीने में टोक्यो ओलंपिक के क्रिएटिव निदेशक हिरोशी सासाकी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने देश की मशहूर कलाकार नाओमी वतानाबे के खिलाफ आपत्तिजानक टिप्पणी की थी। इससे पहले फरवरी में आयोजन समिति के प्रमुख योशिरो मोरी ने एक महिलाओं के खिलाफ अभद्रजनक भाषा का इस्तेमाल किया था। उन्होंने अपने बयान में कहा था कि महिलाएं बैठक में ज्यादा बातें करती हैं। उनके इस बयान के बाद जापान में लैंगिक समानता को लेकर सार्वजनिक बहस छिड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था।
होलोकास्ट क्या है?
होलोकास्ट इतिहास का वो काला अध्याय है जब द्वीतीय विश्वयुद्ध के दौरान जर्मन तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने यहूदियों पर बर्बर अत्याचार किए थे। लाखों यहूदियों को यातना शिविरों में बंद रखा गया था। उनको गैस चेम्बर में बंद कर मार दिया गया। हिटलर नफरत के चलते योजनाबद्ध तरीके से यहूदियों को जड़ से खत्म कर देने चाहता था। इस योजना के तहत नाजियों द्वारा किए गए तमाम अत्याचार और नरसंहार होलोकास्ट के नाम से जाने जाते हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it