विश्व

महिला को 49 दिन तक माहवारी होती रही, 14 दिन तक लगातार ब्लीडिंग फिर...

Neha Dani
16 Dec 2021 8:54 AM GMT
महिला को 49 दिन तक माहवारी होती रही, 14 दिन तक लगातार ब्लीडिंग फिर...
x
उस महिला की अधिक खून बह जाने से मौत हो गई थी.

क्या आपने कभी सुना है कि लिवर में प्रेग्नेंसी हुई है. जी हां, ऐसा ही एक वाकया कनाडा में सामने आया है जहां एक महिला के लिवर में एक बच्चे को देखा गया.

लिवर में नजर आया बेबी
'द सन' की खबर के अनुसार, कनाडा के मैनिटोबा में चिल्ड्रंस हॉस्पिटल रिसर्च इंस्टीट्यूट के बच्चों के डॉक्टर माइकल नार्वे ने यह खुलासा किया है. उन्होंने एक जगह ऑनलाइन लिखा कि एक 33 साल की महिला का माहवारी काल 49 दिन का रहा जिसमें 14 दिन तक लगातार ब्लीडिंग होती रही. तभी उन्होंने सोनोग्राफी में उसके लिवर को देखा तो उसमें एक बेबी नजर आया. उस महिला को एक्टोपिक प्रेग्नेंसी थी जो बहुत रेयर होती है.
क्लिप को टिकटॉक अकाउंट पर किया पोस्ट
उन्होंने कहा कि हमने पेट में कई बार प्रेग्नेंसी देखी है लेकिन लिवर में प्रेग्नेंसी कभी नहीं देखी. ऐसा मैंने पहली बार देखा है. डॉक्टर ने इस डिस्कवरी को एक्सप्लेन करते हुए एक क्लिप अपने टिकटॉक अकाउंट पर पोस्ट की है. उस फुटेज को दो दिन के अंदर 30 लाख लोगों ने देखा है और 17 हजार से ज्यादा कमेंट आए हैं. सर्जन इस मामले में महिला की जान तो बचा सकते हैं लेकिन लिवर में बढ़ते हुए भ्रूण की जान नहीं बचा सकते.
यूजर्स दे रहे हैं ऐसे रिएक्शन
इस मामले में मिक्स रिएक्शन आ रहे हैं. कुछ यूजर्स मां और बच्चे के लिए प्रेयर कर रहे हैं लेकिन कुछ इस पर विश्वास ही नहीं कर पा रहे कि लिवर में भ्रूण कैसे पनप सकता है.
दुनिया में ऐसे सिर्फ 14 केसेज
नेशनल सेंटर फॉर बॉयोटेक्नोलॉजी इन्फॉरर्मेशन के अनुसार, लिवर में प्रेग्नेंसी को एक्टोपिक प्रेग्नेंसी कहते हैं लेकिन ये बहुत रेयर है. इस तरह के अभी तक 14 केस देखे गए हैं. ऐसा एक केस 2012 में भी देखा जहां 18 हफ्ते का एक भ्रूण लिवर से अटैच था. सर्जरी के दौरान उस महिला की अधिक खून बह जाने से मौत हो गई थी.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta