अन्य

कोरोना के खिलाफ जंग होगी मजूबत, US में हर वयस्क को लगेगी बूस्टर डोज

Neha
20 Nov 2021 2:05 AM GMT
कोरोना के खिलाफ जंग होगी मजूबत, US में हर वयस्क को लगेगी बूस्टर डोज
x
कि लोगों को अस्पतालों में भर्ती नहीं होना पड़े.'

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अमेरिका ने बड़ा फैसला लिया है. अमेरिकी नियामकों ने शुक्रवार को सभी वयस्कों के लिए कोविड-19 बूस्टर डोज (Booster Dose) का रास्ता साफ कर दिया है. कोरोना वायरस (Covid-19) के बढ़ते मामलों के मद्देनजर सुरक्षा बढ़ाने के वास्ते सरकार के वैक्सीनेशन प्रोग्राम का विस्तार हुआ है.

हर वयस्क को लगेगी बूस्टर डोज
फाइजर (Pfizers) और मॉडर्ना ने कम से कम 10 राज्यों की ओर से सभी वयस्कों को बूस्टर की पेशकश शुरू करने के बाद खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने फैसले की घोषणा की. पहले बूस्टर डोज सिर्फ 65 से ज्यादा उम्र के लोगों, गंभीर बीमारी के उच्च जोखिम वाले लोगों और उच्च जोखिम वाले व्यवसायों में लगे लोगों के लिए ही उपलब्ध थे. लेकिन इस फैसले के बाद अब 18 साल से ज्यादा के हर वयस्क को बूस्टर डोज दी जाएगी.
बूस्टर डोज में फाइजर की वैक्सीन का 30 माइक्रोग्राम लगाया जाएगा, जो कि पहले लग चुकी डोज के बराबर है, जबकि मॉडर्ना का 50 माइक्रोग्राम लगाया जाएगा, जो पहली डोज का आधा है. लेकिन एफडीए की ओर से इसका जिक्र नहीं किया गया था.
नए साल से पहले लग जाएंगी तीन डोज?
रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों (सीडीसी) को स्वस्थ युवा वयस्कों के लिए भी फाइजर और मॉडर्ना बूस्टर का विस्तार करने के लिए सहमत होना चाहिए. इसके वैज्ञानिक सलाहकार शुक्रवार को बाद में बहस करने के लिए तैयार थे. अगर सीडीसी सहमत होते है, तो लाखों और अमेरिकियों को नए साल से पहले सुरक्षा की तीन डोज मिल सकती हैं.
अमेरिका में जिस किसी को भी जॉनसन एंड जॉनसन की एक डोज मिली है, उसे पहले से ही बूस्टर मिल सकता है. अमेरिका में उपयोग किए जाने वाले कोविड-19 रोधी सभी टीके अभी भी अस्पताल में भर्ती होने और मौत सहित गंभीर बीमारी के खिलाफ मजबूत सुरक्षा प्रदान करते हैं, लेकिन संक्रमण से सुरक्षा समय के साथ कम हो सकती है.
तेजी से बढ़े कोरोना के मामले
यह कदम तब उठाया गया है जब कोविड-19 मामले पिछले दो हफ्तों में तेजी से बढ़े हैं, खासकर उन राज्यों में जहां ठंड के मौसम में लोग घरों में रहने को मजबूर है. अमेरिका के टॉप साइंटिस्ट डॉ एंथनी फाउची ने कहा, 'मैं किसी अन्य वैक्सीन के बारे में नहीं जानता और हम चाहते हैं कि लोगों को अस्पतालों में भर्ती नहीं होना पड़े.'
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it