विश्व

रक्षक निकला राक्षस! महिला को बचाने वाला खुद ही फंसा जाल में...ऐसे पकड़ाया

Gulabi
13 July 2021 8:01 AM GMT
रक्षक निकला राक्षस! महिला को बचाने वाला खुद ही फंसा जाल में...ऐसे पकड़ाया
x
अपनी जान जोखिम में डालकर पड़ोसी की जान बचाने वाले जिस शख्स को इंग्लैंड में हीरो समझा जा रहा था

अपनी जान जोखिम में डालकर पड़ोसी की जान बचाने वाले जिस शख्स को इंग्लैंड (England) में हीरो समझा जा रहा था, वो विलेन साबित हुआ है. रॉबर्ट बार्नेट (Robert Barnett) नामक शख्स ने कुछ वक्त पहले आग में घिरे घर से एक महिला को सुरक्षित बाहर निकाला था. इस दौरान, वह खुद भी घायल हो गया था. बार्नेट के इस साहसिक कारनामे के लिए उसकी जमकर तारीफ हुई थी. लोगों ने उसे रियल लाइफ हीरो (Hero) की उपाधि तक दे डाली थी, लेकिन अब कहानी एकदम से पलट गई है.

पता नहीं था House में कोई है
'मिरर' में छपी खबर के अनुसार, उत्तर पूर्व इंग्लैंड के Sunderland में रहने वाले रॉबर्ट बार्नेट (Robert Barnett) को अदालत ने जेल भेज दिया है. बार्नेट ने पुलिस जांच के बाद खुद अपना जुर्म कबूल करते हुए बताया कि उसने ही पड़ोस में रहने वालीं सेरेना ब्यूरेल (Serena Burrell) के घर में आग लगाई थी. हालांकि, उसे पता नहीं था कि उस वक्त सेरेना घर पर ही हैं. वो घर को खाली समझ रहा था.
Help के लिए तुरंत पहुंच गया था
पुलिस ने अदालत को बताया कि सेरेना ब्यूरेल जब नींद से उठीं तो उन्होंने देखा कि पूरे घर में धुआं भर गया है. उन्होंने बाहर निकलने का प्रयास किया, तो आग ने उनका रास्ता रोक लिया. इसके बाद उन्होंने फायर डिपार्टमेंट को कई कॉल किए. सेरेना ने मदद के लिए एक कॉल पड़ोसी रॉबर्ट बार्नेट को भी किया. उस समय रॉबर्ट को अहसास हुआ कि उसने कितनी बड़ी गलती कर दी है और वह तुरंत मदद के लिए पहुंच गया.
Police को बताई अधूरी कहानी
पीड़िता और अपराधी के घर के करीब रहने वाली एक महिला ने बताया कि रॉबर्ट बार्नेट ने अपनी परवाह न करते हुए कई बार सेरेना ब्यूरेल के घर में घुसने का प्रयास किया, ताकि उन्हें बचाया जा सके. इस कोशिश में रॉबर्ट खुद भी जल गया था. वहीं, हादसे के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो रॉबर्ट ने खुद को हीरो के तौर पर पेश किया. उसने बताया कि आग लगने की सूचना मिलते ही वो तुरंत मदद के लिए दौड़ पड़ा.
ऐसे सामने आया Robert का सच
इस साहसिक कारनामे के लिए रॉबर्ट बार्नेट की जमकर तारीफ हुई. लोकल मीडिया में उसे हीरो के तौर पर पेश किया गया. हालांकि, कल का हीरो आज विलेन साबित हो गया है. दरअसल, घटना के बाद जब पुलिस ने आसपास लगे कैमरे खंगाले तो उन्हें सेरेना ब्यूरेल के घर के नजदीक एक नकाबपोश व्यक्ति नजर आया. पुलिस ने पाया कि नकाबपोश के जाते ही सेरेना के घर से धुआं निकलने लगा. इसके बाद पुलिस ने अग्निकांड की साजिश के एंगल से जांच शुरू की.
Court में लंबी चली सुनवाई
पुलिस ने जब रॉबर्ट बार्नेट के घर की तलाशी ली, तो उसे वहां वही कपड़े मिले जो हादसे वाले दिन नकाबपोश ने पहने थे. इसके आधार पर पुलिस ने रॉबर्ट को हिरासत में लेकर पूछताछ की. शुरुआत में आरोपी घटना में शामिल होने से इनकार करता था, लेकिन बाद में उसने अपना जर्म कबूल कर लिया. पांच अगस्त, 2019 में हुए इस हादसे में सेरेना की टखने, रीढ़ और कोहनी की हड्डी टूट गई थी. मामले की लंबी सुनवाई के बाद आखिरकार कोर्ट ने रॉबर्ट को साढ़े तीन साल जेल की सजा सुनाई है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta