विश्व

वियाग्रा की डोज देते ही मरीज का वेंटिलेटर हटा, 28 दिनों से थी कोमा में

Neha Dani
3 Jan 2022 11:32 AM GMT
वियाग्रा की डोज देते ही मरीज का वेंटिलेटर हटा, 28 दिनों से थी कोमा में
x
उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती किया जहां वह पिछले 28 दिन से कोमा में थीं.

एक नर्स 28 दिन से कोविड होने के बाद कोमा में थी. तब उसकी जान बचाने के लिए उसके साथियों ने उसे वियाग्रा दी. वियाग्रा खाते ही नर्स कोमा से बाहर आ गई. हैरान कर देने वाला ये वाकया ब्रिटेन का है.

The Sun की खबर के अनुसार, 37 साल की मोनिका अल्मेडा 72 घंटों से वेंटिलेटर पर थी, तभी उनके साथियों ने उत्तेजना बढ़ाने वाली दवा वियाग्रा की डोज उसको दी. आश्चर्यजक रूप से उसमें जान आ गई और उनका वेंटिलेटर हटा दिया गया. कोविड की वजह से लेडी का ऑक्सीजन लेवल भी काफी कम हो गया था.
डॉक्टरों की प्रशंसा कर रही हैं नर्स
मोनिका अब उन डॉक्टरों की प्रशंसा कर रही हैं जिन्होंने इस तरह की ड्रग देने का फैसला लिया जिसका उनको फायदा हुआ.
कंसल्टेंट ने दिया था वियाग्रा देने का सुझाव
इस मामले में एक दूसरी नर्स ने बताया कि उनके पास एक कंसल्टेंट आया था जिसने उसे यह सुझाव दिया था. तब उसने सोचा कि वह मजाक कर रहा है लेकिन जब उसने बताया कि वियाग्रा की डोज देने के बाद वह मरीज होश में आ जाएगा तो उसे यकीन नहीं हुआ. तब कंसल्टेंट ने सीरियस होकर बताया था कि वियाग्रा की एक बड़ी डोज इस मामले में फायदा कर सकती है.
कोविड मरीजों के साथ काम करने के बाद हो गई थी पॉजिटिव
मोनिका एनएचएस लिंकनशायर में कोविड पेशेंट के साथ काम कर रही थीं, तब अक्टूबर में वह कोविड पॉजिटिव हो गईं थी उन्होंने अपने सेंस खो दिए थे. उन्हें न तो कोई टेस्ट आ रहा था और स्मेल आ रही थी. कोविड पॉजिटिव होने के चार दिन बाद उन्हें कफ में ब्लड भी आने लगा था.
28 दिन से कोमा में थी नर्स
जब उनकी हालत और खराब हो गई और ऑक्सीजन लेवल कम हो गया तो फिर उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती किया जहां वह पिछले 28 दिन से कोमा में थीं.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta