विश्व

लड़की ने हर हफ्ते खर्चे 10 हजार रुपये, 3 महीने बाद हालत देख मां भी नहीं पहचान पाई

Nidhi Singh
20 Oct 2021 8:46 AM GMT
लड़की ने हर हफ्ते खर्चे 10 हजार रुपये, 3 महीने बाद हालत देख मां भी नहीं पहचान पाई
x
फास्‍ट फूड खाने की लत कितनी भारी पड़ सकती है इसका अंदाजा ऑस्‍ट्रेलिया की राजधानी सिडनी में रहने वाली कोरा हेंडरसन को कुछ महीनों पहले ही हुआ है.

मिरर यूके की रिपोर्ट के मुताबिक कोरा ने कितना ज्‍यादा फास्‍ट फूड खाया होगा इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि उसने हर हफ्ते मैकडॉनल्ड्स के खाने पर ही £100 (10 हजार रुपये से ज्‍यादा) खर्च किए.

3 महीने बाद मां ही नहीं पहचानी


बेजा फास्‍ट फूड खाने से कोरा का वजन इतना ज्‍यादा बढ़ गया कि जब 3 महीने बाद वह अपने पैरेंट्स से मिलीं तो वो उसे पहचान ही नहीं पाए. फ्लाइट अटेंडेंट के तौर पर काम करने वाली कोरा ने बताया, 'जब मेरी मां मुझे एयरपोर्ट पर लेने आई तो मुझे पहचान ही नहीं पाई. बाद में उसने मुझे जब गाड़ी में बिठाया तो सबसे पहले यही पूछा कि क्या सब कुछ ठीक है.'

मां ने कराया अहसास


कोरा ने बताया, 'यदि मेरे साथ यह घटना न होती तो शायद मुझे अहसास ही नहीं होता कि मेरा वजन इतना ज्‍यादा बढ़ गया है. इस घटना के बाद मैंने खुद को बदलने का फैसला किया. मैंने जिम जॉइन किया और हेल्‍दी डाइट लेनी शुरू की.'

फ्लाइट से उतरकर सीधे फूड कोर्ट जाती थी


कोरोना के कारण फ्लाइट अटेंडेंट की नौकरी खो चुकीं कोरा अब एक कॉल सेंटर में काम करती हैं. वह बताती हैं, 'पिछली नौकरी के दौरान मैं लंबी उड़ानों पर ड्यूटी करती थी. ऐसे में पूरे समय पीछे बैठकर कुछ न कुछ खाती रहती थी और फ्लाइट से उतरते ही सीधे फूड कोर्ट जाती थी.'

शरीर ही नहीं दिमाग पर भी हुआ असर


कोरा ने बताया कि इतना ज्‍यादा फास्‍ट फूड खाने के कारण केवल मेरा वजन ही नहीं बढ़ा बल्कि इसका असर मेंटल हेल्‍थ पर भी पड़ा. मैं बहुत आलसी हो गई थी. मैं थोड़ा सा चलने में भी थक जाती थी. बिना गाड़ी के मैं कहीं भी नहीं जा पाती थी. मां के समझाने के बाद मैंने शक्‍कर खाना और फास्‍ट फूड खाना पूरी तरह बंद कर दिया है और कई किलो वजन घटा लिया है. वजन कम करने के बाद का अहसास ही अलग है.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it