विश्व

पाकिस्तान की शिया मस्जिद पर हुए आत्मघाती हमले के जिम्मेदार आतंकी पहचाने, अविश्वास प्रस्ताव से इमरान बेफिक्र

Renuka Sahu
7 March 2022 1:35 AM GMT
पाकिस्तान की शिया मस्जिद पर हुए आत्मघाती हमले के जिम्मेदार आतंकी पहचाने, अविश्वास प्रस्ताव से इमरान बेफिक्र
x

फाइल फोटो 

जांच अधिकारियों ने शुक्रवार को शिया मस्जिद पर हुए घातक आत्मघाती हमले के लिए जिम्मेदार आतंकियों के पूरे नेटवर्क का पर्दाफाश करने का दावा किया है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। जांच अधिकारियों ने शुक्रवार को शिया मस्जिद पर हुए घातक आत्मघाती हमले के लिए जिम्मेदार आतंकियों के पूरे नेटवर्क का पर्दाफाश करने का दावा किया है। हमले में कुल 63 लोगों की मौत हुई, जबकि 200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

अफगानिस्तान की सीमा वाले खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत की राजधानी पेशावर में हुए इस हमले की जिम्मेदारी आईएस-खुरासान ने ली है। जांच दल ने हमलावरों के दो सहयोगियों की मदद से उनके स्केच तैयार कराए हैं।
खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार मुहम्मद अली सैफ व पेशावर के पुलिस प्रमुख एजाज खान ने बताया कि हमलावारों के साथ आए दो मददगारों का पता चला है। जांच दल को घटनास्थल से गोलियों के सात खोल मिले हैं।
इनसे पता चलता है कि हमलावरों ने खुद को उड़ाने से पहले 9 मिमी की पिस्तौल का इस्तेमाल किया था। हथियार देने वालों का पता लगाया जा रहा है। गृह मंत्री शेख रशीद अहमद ने हमले के साजिशकर्ताओं को पकड़ने पर जोर दिया था।
पुलिस की भूमिका पर भी उठ रहे हैं सवाल
स्थानीय लोग पुलिसकर्मियों पर अपना फर्ज ठीक तरह से नहीं निभाने का आरोप लगा रहे हैं। पुलिस प्रमुख एजाज खान का कहना है कि एक पुलिसकर्मी ने फर्ज निभाते हुए जान दी है। ऐेसे में पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाना उचित नहीं। थोड़ी-बहुत चूक हो सकती है, क्योंकि पुलिस पर बहुत दबाव है। फिलहाल पुलिस हमलावरों के दो साथियों की तलाश कर रही है। उनकी पहचान हो चुकी है।
अविश्वास प्रस्ताव से इमरान बेफिक्र
पाक प्रधानमंत्री इमरान खान जहां विपक्ष की तरफ से लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को लेकर बेफिक्र हैं, वहीं विपक्षी दल दोनों सदनों में लामबंद होकर सरकार गिराने को लेकर आश्वस्त हैं। इमरान खान ने दावा किया कि सत्तारूढ़ पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के पास राष्ट्रीय विधानमंत्रडल में पर्याप्त संख्या बल है।
पार्टी के सदस्यों से बात करते हुए इमरान खान कहा, विपक्ष को अविश्वास प्रस्ताव से उनकी सरकार पर कोई आंच नहीं आने वाली। सभी गठबंधन सहयोगी उनके साथ हैं। इस दौरान इमरान की गठबंधन सरकार में साझेदार रियाज फतयाना और नसरुल्ला दरेशिक समर्थन का आश्वासन दिया।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta