विश्व

तालिबान ने कब्जे के साथ ही मुल्क की सत्ता में अपनी वापसी की, गजनी में लगाई प्रदर्शनी

Neha Dani
4 Jan 2022 10:27 AM GMT
तालिबान ने कब्जे के साथ ही मुल्क की सत्ता में अपनी वापसी की, गजनी में लगाई प्रदर्शनी
x
अफगानिस्तान पर अमेरिका के नेतृत्व वाले कब्जे के दो दशकों के अनुस्मारक और अवशेष पूरे देश में बिखरे हुए हैं.

अफगानिस्तान (Afghanistan) के गजनी प्रांत (Ghazni) के गवर्नर के परिसर में तालिबान (Taliban) ने एक नई ऐतिहासिक प्रदर्शनी का अनावरण किया है. इस दौरान एक उत्साही भीड़ भी मौजूद रही है. दरअसल, ये पूर्व अमेरिकी सैन्य अड्डे (US military base) में विस्फोट के बाद बची दीवार के कुछ हिस्से हैं. इसमें एक टुकड़ा अमेरिका के सबसे लंबे युद्ध के दौरान प्रांत में सेवा करने वाले अमेरिकी सैनिकों के नाम और रेजिमेंट वाला है. हर देश के सैनिकों की तरह, अमेरिकी सैनिकों ने नियमित रूप से अपने नाम को सैन्य अड्डों और उनके कब्जे वाले स्थानों पर अंकित किया है.

लेकिन अब ये पत्थर का टुकड़ा लोगों के देखने के लिए उपलब्ध कर दिया गया है. इसका इस्तेमाल ये दिखाने के लिए किया जा रहा है कि 20 साल तक चली जंग में तालिबान ने अमेरिका के नेतृत्व वाली सेना को हरा दिया. तालिबान प्रांतीय संस्कृति प्रमुख मुल्ला हबीबुल्लाह मुजाहिद (Mullah Habibullah Mujahid) ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया कि हमें यह दिखाना होगा ताकि अफगान, दुनिया और आने वाली पीढ़ियों को पता चले कि हमने अमेरिकियों को हराया है. उन्होंने कहा कि हमने ऐसा तब किया, जब वे खुद को दुनिया में सबसे शक्तिशाली मुल्क कहते हैं.
अपनी जीत का अध्याय लिखने में व्यस्त है तालिबान
तालिबान ने राजधानी काबुल (Kabul) से 150 किलोमीटर दूर गजनी पर 15 अगस्त से तीन दिन पहले कब्जा किया था. वहीं, 15 अगस्त को काबुल पर तालिबान ने कब्जे के साथ ही मुल्क की सत्ता में अपनी वापसी की. इस क्षेत्र का 3,500 सालों का समृद्ध इतिहास रहा है और तालिबान अब अपनी सैन्य विजय के प्रमाण के साथ नवीनतम अध्याय लिखने में व्यस्त हैं. अफगानिस्तान में तालिबान द्वारा प्रोपेगेंडा तब फैलाया जा रहा है, जब आर्थिक पतन का सामना कर रहे मुल्क पर शासन करने में तालिबान को कठिनाई हो रही है. संयुक्त राष्ट्र का अनुमान है कि अफगानिस्तान की आधी से अधिक आबादी भुखमरी का सामना कर रही है.
शहर के बार भी लगाई गई प्रदर्शनी
शहर के बाहर की सड़कों पर लगभग 2,00,000 ऐसी वस्तुओं की अनौपचारिक प्रदर्शनी लगाई गई है, जो तालिबान की जीत को दिखाती है. नष्ट किए गए अमेरिकी बख्तरबंद वाहनों के जंग खाए हुए ढेर प्रदर्शन पर हैं. बच्चे इसके चारों ओर और उसके ऊपर चढ़ रहे हैं. 18 वर्षीय तालिबान लड़ाके ओजैर ने कहा, जब हम इसे देखते हैं तो हमें अपनी उपलब्धि पर गर्व होता है. हमने दिखाया कि यहां पैदा हुए अफगान एक शक्तिशाली देश अमेरिका को हरा सकते हैं. अफगानिस्तान पर अमेरिका के नेतृत्व वाले कब्जे के दो दशकों के अनुस्मारक और अवशेष पूरे देश में बिखरे हुए हैं.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta