अन्य

SEX LIFE: मैं किसी भी महिला को देख टर्न ऑन हो जाता हूं, संतुष्टि बन गई लत

Nidhi Markaam
13 Feb 2022 6:14 AM GMT
SEX LIFE: मैं किसी भी महिला को देख टर्न ऑन हो जाता हूं, संतुष्टि बन गई लत
x
लेकिन मैंने सोचा था कि मैं इसे रोक सकता हूं। हालांकि, ऐसा हुआ नहीं और तब मुझे अहसास हुआ कि मैं सेक्स अडिक्ट हूं।

सेक्शुअल प्लेजर पाने की इच्छा रखना नॉर्मल माना जाता है। हालांकि, ये अलग बात है कि हर चीज की तरह इसमें भी एक सीमा का खींचा जाना जरूरी है, नहीं तो सेक्स करना, एक बुरी लत का रूप ले सकता है। ये न सिर्फ आपके रिश्ते को बर्बाद करेगा, बल्कि आपकी रोजमर्रा की जिंदगी को भी बड़ी चुनौती बना देगा। अंत में इससे उबरने के लिए डॉक्टर की मदद लेने की जरूरत पड़ ही जाएगी। सेक्स की लत क्या-क्या करवा सकती है, इससे जुड़ी कुछ अपनी कहानियां लोगों ने शेयर की हैं।

संतुष्टि बन गई लत
मेरा साथी इतनी जल्दी क्लामैक्स पर पहुंच जाता था कि मुझे खुद को संतुष्ट करने के लिए मास्टरबेशन का सहारा लेना पड़ता था, जबकि मुझे ये पसंद भी नहीं था। धीरे-धीरे ये बढ़ा और मैं हर बार सेक्स के बाद मास्टरबेट करने लगी। ये आदत तेजी से बढ़ी। मैं दिन में कम से कम एक बार या कभी-कभी तीन बार तक मास्टरबेशन करती हूं। ये सब इतनी जल्दी हुआ कि मैं इस लत को रोक ही नहीं सकी।
मैं किसी भी महिला को देख टर्न ऑन हो जाता हूं
इस लत की सबसे अजीब बात ये है कि मुझे टर्न ऑन होने के लिए किसी महिला को बिना कपड़ों के सामने या फिर मोबाइल में देखने की जरूरत नहीं होती। मैं किसी भी महिला को अपनी नजरों के सामने देखूं, भले ही वो पूरी तरह से कपड़ों से ढकी हुई ही क्यों न हो, लेकिन अगर मेरे दिमाग में जरा से भी विचार आए, तो मैं टर्न ऑन होने लगता है। इस वजह से कभी भी मेरा लिंग इरेक्ट हो जाता है। इसने मेरी सोशल लाइफ को बर्बाद कर दिया है।
कैसे पता लगाएं कि आपकी पार्टनर को संभोग सुख प्राप्त हो गया!

मेरे अंदर कोई इमोशन ही नहीं बचे
सेक्स की लत आपकी जिंदगी बर्बाद करके रख देती है। मेरे अंदर कोई इमोशन ही नहीं बचे हैं। मेरा साथी मुझे छोड़ चुका है और मेरा परिवार भी मुझसे दूर हो गया है। काम पर ध्यान नहीं लगा पाने के कारण ऑफिस में भी मुझे कई बार वॉर्निंग मिल चुकी हैं। मुझे अब ये ही समझ नहीं आता कि आखिर मैं हूं कौन? मैं मदद लेने की कोशिश कर रही हूं। हालांकि, ये भी इस पर निर्भर करता है कि आप इस मदद को लेने के लिए तैयार भी हैं या नहीं।
इसने मेरी मदद की
सेक्स अडिक्शन ने मुझे नुकसान नहीं पहुंचाया, बल्कि इसने मेरी मदद की। इसके बाद मैं अपने शरीर को और पसंद करने लगा। मेरी बॉडी जो चाहती थी, मैंने उसे दिया। सेक्स की लत ने मुझे और कॉन्फिडेंट व बोल्ड बनने में मदद की, जो मेरे लिए किसी ब्लेसिंग की तरह है। Sex addiction को बुरा तो माना जाता है, लेकिन ये हमेशा सबको नुकसान पहुंचाए ये जरूरी नहीं।
क्या आपको लग गई है सेक्स करने की लत? जानें लक्षण
पत्नी संतुष्ट नहीं कर पाई, इसलिए मैंने बाहर का सहारा लिया
मेरी पत्नी मुझे संतुष्ट नहीं कर पाती है, जो मुझे फ्रस्टेट कर देता है। मुझे हमेशा से प्लेजर पसंद था और मैं ऐसा साथी चाहता था, जो सेक्स के लिए मेरी जैसी सोच रखता हो। मुझे गलत मत लीजिए, मैं अपनी पत्नी को बहुत प्यार करता हूं, लेकिन सेक्शुअल सैटिस्टफैक्शन भी मेरे लिए अहम है। इस वजह से मैंने अफेयर रखना और यहां तक कि प्रॉस्टिट्यूट्स का सहारा लेना शुरू कर दिया। मुझे पता है कि ये गलत है, लेकिन मैंने सोचा था कि मैं इसे रोक सकता हूं। हालांकि, ऐसा हुआ नहीं और तब मुझे अहसास हुआ कि मैं सेक्स अडिक्ट हूं।

Next Story