विश्व

NATO पर सामने आया रूस का गुस्सा, 24 घंटे में दो बार दी परमाणु अटैक की धमकी

Neha Dani
24 March 2022 11:27 AM GMT
NATO पर सामने आया रूस का गुस्सा, 24 घंटे में दो बार दी परमाणु अटैक की धमकी
x
यूक्रेन पर रूसी हमलों के खिलाफ रूस में आवाजें उठने लगी हैं.

यूक्रेन और रूस के बीच 24 फरवरी से शुरू हुआ युद्ध लगातार जारी है. दोनों देशों के बीच जंग का आज गुरुवार को 30वां दिन है. तमाम कोशिशों के बाद भी युद्ध रोकने को लेकर रूस-यूक्रेन अब तक किसी हल पर नहीं पहुंच सके हैं. चौतरफा दबाव के बीच अब रूस की तरफ से परमाणु हमले की धमकी और तेज हो गई है. बीते 24 घंटे में रूस दो बार यूक्रेन पर परमाणु हमला करने की धमकी दे चुका है.

न्यूक्लियर अटैक की 24 घंटे में दूसरी धमकी
यूक्रेन पर हमलों को लेकर रूस पर पश्चिमी देश लगातार दबाव बना रहे हैं. यूक्रेन पर जारी रूसी हमले को लेकर आज गुरुवार को NATO और अमेरिका के बीच बैठक भी होनी है. NATO के हर एक कदम से रूस की बौखलाहट सामने आ रही है. यूक्रेन पर परमाणु हमले की ताजा धमकी अमेरिका में रूस के उप राजदूत दिमित्री पोलांस्की (Dmitry Polyanskiy) की तरफ से आई है. इससे पहले क्रेमलिन के प्रवक्ता Dmitry Peskov ने यूक्रेन पर परमाणु हमले की बात कही थी. यूक्रेन को लेकर रूस की तरफ से परमाणु हमले की यह 24 घंटे में दूसरी धमकी है.
NATO रूस को उकसाएगा तो..
Dmitry Polyanskiy ने कहा है कि अगर नाटो (North Atlantic Treaty Organization) रूस को उकसाएगा तो हमारे पास परमाणु हथियारों को इस्तेमाल करने का अधिकार है. आज एक साक्षात्कार में Dmitry Polyanskiy ने कहा कि अगर रूस के सामने अस्तित्व का खतरा होगा तो पुतिन परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करेंगे.
सबसे ज्यादा परमाणु हथियार रूस के पास
क्रेमलिन के प्रवक्ता Dmitry Peskov ने एक दिन पहले बुधवार को यूक्रेन को लेकर परमाणु हमले की बात कही थी. उन्होंने कहा था कि अगर रूस के सामने 'अस्तित्व का खतरा' आएगा तो वह परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करेगा. याद दिला दें कि दुनिया में परमाणु हथियार की सबसे ज्यादा खेप रूस के ही पास है.
अमेरिका-NATO की रूस को घेरने की तैयारी
रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर आज ब्रसेल्स में NATO की अहम बैठक होने वाली है. अमेरिका और NATO इस बैठक में रूस को घेरने की योजना तैयार कर सकते हैं. बैठक में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भी शामिल होंगे. इसके बाद शुक्रवार को बाइडेन का पोलैंड दौरा है. पोलैंड में भी बाइडेन की बैठक होगी, जिसमें रूस के खिलाफ आगे का एजेंडा तय किया जा सकता है.
जेलेंस्की ने की युद्ध रोकने की अपील
उधर, युद्ध से जूझ रहे यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की बार-बार दुनिया से रूस पर दबाव बनाने और युद्द रोकने की अपील कर रहे हैं. जेलेंस्की ने कहा है कि सभी देशों को मिलकर रूस को रोकना होगा. रूस के सख्त रवैये को लेकर पुतिन अपने देश में भी घिरने लगे हैं. यूक्रेन पर रूसी हमलों के खिलाफ रूस में आवाजें उठने लगी हैं.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta