विश्व

इज्युम शहर व नीपर नदी तक पहुंची रूसी सेना, यूक्रेन भी हुआ आक्रामक, लुहांस्क में रूस का हथियार डिपो किया तबाह

Subhi
12 April 2022 12:48 AM GMT
इज्युम शहर व नीपर नदी तक पहुंची रूसी सेना, यूक्रेन भी हुआ आक्रामक, लुहांस्क में रूस का हथियार डिपो किया तबाह
x
रूस-यूक्रेन युद्ध के 47वें दिन तक रूसी सेना कीव को जीतने में नाकाम रही है। इसे देखते हुए रूस ने अपनी योजना में बदलाव करते हुए पूर्वी यूक्रेन पर फोकस किया है। सोमवार को रूसी सेना का बड़ा काफिला इज्युम शहर और नीपर नदी के आसपास देखा गया।

रूस-यूक्रेन युद्ध के 47वें दिन तक रूसी सेना कीव को जीतने में नाकाम रही है। इसे देखते हुए रूस ने अपनी योजना में बदलाव करते हुए पूर्वी यूक्रेन पर फोकस किया है। सोमवार को रूसी सेना का बड़ा काफिला इज्युम शहर और नीपर नदी के आसपास देखा गया। उधर, यूक्रेन ने भी आक्रामक रुख अपनाते हुए बश्तांका में रूस के क्रूज मिसाइल से भरे ट्रक पर हमला किया है। यूक्रेनी सेना ने लुहांस्क में रूसी हथियार डिपो को भी तबाह कर दिया।

अमेरिकी विशेषज्ञों का कहना है कि रूस का 12.8 किलोमीटर का लंबा काफिला इज्युम शहर की तरफ बढ़ रहा है। इसकी सैटेलाइट तस्वीर भी सामने आई हैं। नेक्स्टा टीवी वेबसाइट के मुताबिक, अमेरिकी विशेषज्ञों को आशंका है कि रूस नीपर नदी के आसपास बड़े हमले की योजना बना चुका है। हाल ही में उपग्रह तस्वीरों में इस बात की पुष्टि के संकेत भी मिले हैं।

खारकीव शहर के दक्षिण-पूर्व में स्थित इज्यूम शहर में अब तक यूक्रेनी सेना ने रूस को तोस-1ए सोल्त्सेप्योक जैसी शक्तिशाली तोपों के साथ कड़ी टक्कर दी है लेकिन अब रूसी सेना के बड़े काफिले के यहां पहुंचने के बाद हालात बदल सकते हैं।

रूस ने नियुक्त किया नया सैन्य कमांडर

रूस ने यूक्रेन युद्ध के लिए नया सैन्य कमांडर नियुक्त किया है और अब वह देश के पूर्वी हिस्से में हमलों पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। अमेरिकी अधिकारी ने पहचान गुप्त रखते हुए बताया कि रूस ने सबसे अनुभवी सैन्य अधिकारियों में शामिल जनरल एलेक्सजेंडर दवोर्निकोव (60) को नया कमांडर बनाया है। दवोर्निकोव का सीरिया और अन्य युद्ध स्थलों पर आम नागरिकों के खिलाफ क्रूरता का रिकॉर्ड है।

हार नहीं मानेंगे, आगामी दिन अहम : जेलेंस्की

यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने कहा कि उनके सैनिक हार नहीं मानेंगे। उन्होंने अमेरिका समेत पश्चिमी देशों से उन्हें और मदद देने का अनुरोध किया। उन्होंने अपने देश को सचेत किया कि आगामी सप्ताह युद्ध में बेहद महत्वपूर्ण है, क्योंकि रूसी बल हमारे देश के पूर्व में और बड़े अभियान चलाएंगे। उन्होंने कहा, एक दिन ऐसा आएगा, जब रूस को सब कुछ स्वीकार करना होगा। उसे सच स्वीकारना ही होगा।

दर्दनाक मंजर, जूतों को देख मां ने की बेटे के शव की पहचान

यूक्रेन युद्ध में अपने बेटे को गवां चुकी 60 वर्षीय ल्यूडमिला नामक एक मां के आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। बेटे येवेनी के शव को देख, यह मां घुटनों के बल गिर गई। इस मां को एक पेट्रोल पंप के पीछे अपने 23 साल के बेटे का शव मिला। बेटे के शव को इस मां ने उसके जूतों से पहचाना। शव पर सेना का स्लीपिंग मैट था और पानी में था। ऐसे में मां ने पैरों में पहने जूतों को देख बेटे के शव को पहचान। बेटे का शव देख यह मां वहां गिर गई और मेरे छोटे बच्चे.. कहकर चीखने लगी। वहां मौजूद एक अन्य महिला जब उसे पीछे खींचने की कोशिश की तो वह भीख मांगने लगी मुझे उसे थोड़ी देर देखने दो, मैं नहीं जाऊंगी।

यूक्रेन को मिली एस-300 मिसाइलें नष्ट कीं : रूस

रूस ने कहा है कि उसने किसी अज्ञात यूरोपीय देश द्वारा यूक्रेन को दी गई एस-300 एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइल सिस्टम को अपनी क्रूज मिसाइलों से नष्ट किया है। रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि रूस ने रविवार को यूक्रेनी शहर दीनिप्रो के बाहरी इलाके में छिपाकर रखी गईं चार एस-300 के विरुद्ध कलिब्र क्रूस मिसाइलें छोड़ी थीं। रूस ने दावा किया कि इस हमले में यूक्रेन के 25 सैनिक मारे गए।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta