Top
विश्व

युद्ध के मुहाने पर रूस-यूक्रेन, जर्मनी ने सीमा से सैनिकों को हटाने की अपील की

Neha
9 April 2021 4:43 AM GMT
युद्ध के मुहाने पर रूस-यूक्रेन, जर्मनी ने सीमा से सैनिकों को हटाने की अपील की
x
जिसका अमेरिका समर्थन कर रहा है और रूस एक बार फिर भड़क रहा है.

रूस और यूक्रेन (Russia Ukraine News) के बीच बढ़ता तनाव युद्ध का खतरा भी बढ़ा रहा है. रूस ने यूक्रेन से लगने वाली अपनी सीमा पर बड़ी संख्या में बख्तरबंद हथियारों के साथ सैनिकों की तैनाती कर दी है, जिससे पूरे यूरोप में हाई अलर्ट जैसी स्थिति है. इस बीच जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल (Angela Merkel) ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से कहा है कि वह उन सैनिकों को पीछे हटा लें (Russia Ukraine Border Conflict), जिन्हें यूक्रेन के साथ लगने वाली सीमा पर तैनात किया गया है. यूक्रेन के डोनबास क्षेत्र में रूस सेना की तैनाती बढ़ा रहा है.

यूक्रेन की सरकार पूर्वी डोनेस्क और लुगांस्क क्षेत्रों (डोनबास का हिस्सा) में रूस के समर्थन वाले अलगाववादियों से लड़ रही है. दरअसल साल 2014 (Russia Ukraine Conflict 2014) में रूस ने क्रीमिया को जबरन रूस में मिला लिया था. तभी से डोनबास में विवाद चल रहा है. यूक्रेन का कहना है कि रूस समर्थिक इस अलगाववादी जंग में अभी तक 14 हजार लोगों की मौत हो गई है. साल 2015 में युद्धविराम के बावजूद यहां हिंसा बनी हुई है (Russia Ukraine Disputed Territory). साल 2021 में ही 24 सैनिकों ने अपनी जान गंवाई है. अब रूस ने मार्च की शुरुआत से सैनिकों की तैनाती बढ़ाना शुरू कर दिया है, जिससे युद्ध की आशंका बढ़ गई है.
अमेरिका ने नाटो सहयोगियों से की बात
जर्मनी को जबाव देते हुए रूस ने यूक्रेन का नाम लेते हुए कहा कि वह उत्तेजक कार्रवाई कर रहा है, जिससे स्थिति बिगड़ रही है. वहीं गुरुवार को व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी (Jen Psaki) ने कहा कि अमेरिका ने रूसी सैनिकों की मूवमेंट को लेकर अपने नाटो के सहयोगियों से बात की है. साकी ने कहा कि रूस ने अब यूक्रेन के साथ लगने वाली अपनी सीमा पर और अधिक सैनिकों को तैनात कर दिया है (Russia Ukraine Border Dispute). उन्होंने कहा, 'केवल इसी हफ्ते में यूक्रेन के पांच सैनिकों की मौत हो गई है. ये सभी गहरे चिंताजनक संकेत हैं.'
जेलेंस्की ने किया फ्रंट लाइन का दौरा
वहीं यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskyy) ने भी फ्रंट लाइन का दौरा किया है. जिसकी तस्वीरें जेलेंस्की के कार्यालय ने जारी की हैं. उन्होंने देश की रक्षा करने को लेकर सैनिकों को धन्यवाद कहा है. जेलेंस्की ने कहा, 'आप वीरता और समर्पण के सच्चे उदाहरण हैं (Crimea Russia Ukraine History). हमें हर वो योद्धा याद है, जिसने देश की रक्षा के लिए खुद को कुर्बान कर दिया.' बीते हफ्ते खबर आई थी कि यूक्रेन ने नाटो में शामिल होने की कोशिशें तेज कर दी हैं. जिसका अमेरिका समर्थन कर रहा है और रूस एक बार फिर भड़क रहा है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it