विश्व

गर्मियों की छुट्टियां मनाने गए लोग यूरोपीय हवाई अड्डों की बदइंतजामी से परेशान

Renuka Sahu
24 Jun 2022 3:17 AM GMT
People who went for summer holidays upset by the mismanagement of European airports
x

फाइल फोटो 

कोरोना संक्रमण के चलते दो सालों की हवाई यात्रों पर प्रतिबंध के बाद वायु यातायात बहाल तो हो गया है, लेकिन हवाई यात्राएं अनिश्चित हो गई हैं।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कोरोना संक्रमण के चलते दो सालों की हवाई यात्रों पर प्रतिबंध के बाद वायु यातायात बहाल तो हो गया है, लेकिन हवाई यात्राएं अनिश्चित हो गई हैं। यूरोपीय हवाई अड्डों की बदइंतजामी और देरी से यूरोप में आजकल हवाई यात्रा किसी बुरे सपने से कम नहीं है। गर्मियों की छुट्टियों में अधिकाधिक लोग यूरोप जाते हैं और इस बार भी ऐसा ही है, लेकिन कोविड-काल में नौकरियां जाने, एयरपोर्ट स्टाफ कम होने और सभी एयरपोर्ट लंबे समय तक बंद रहने से यहां बदइंतजामी अपने चरम पर है। एमैस्टरडैम हो या एथेंस, पेरिस हो या मिलान, सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर यात्रियों की लंबी लाइनें, मदद के लिए कोई साइनबोर्ड नहीं, साफ टायलेट नहीं और कैंसिल होती उड़ानों ने बड़े पैमाने पर यूरोप में घूमने निकले हवाई यात्रियों को परेशान कर दिया है। लोग सुरक्षा जांच की लाइनों में घंटों से खड़े रहते हैं। इन लाइनों में बुजुर्ग, बच्चे सभी शामिल होते हैं।

हर दिन क्षमता से अधिक एयरलाइन सीटों की हो रही बुकिंग
आस्ट्रेलिया से लंदन आए मार्गन ने समय बचाने के लिए सोमवार को ही आनलाइन चेकइन कर लिया और सामान में केवल एक कैरीबैग साथ रखा। लेकिन बहुत से लोगों को हवाई अड्डों पर भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। घंटों लंबी कतारों में खड़े रहने के बाद उड़ानें रद हो रही हैं और लोगों के सामान एयरपोर्ट पर खो जा रहे हैं। नीदरलैंड के सबसे व्यस्त एयरपोर्ट शिफोल में उड़ानें कम की जा रही हैं। बताया जा रहा है कि हर दिन क्षमता से अधिक एयरलाइन सीटों की बुकिंग हो रही है। सिक्योरिटी स्टाफ इस भीड़ को संभाल नहीं पा रहा है। डच एयरलाइंस केएलएम ने इस माह ऐसे अतिरिक्त यात्रियों से क्षमा मांग ली है। लंदन के गैटविक और हीथ्रो एयरपोर्ट ने एयरलाइनों से उड़ानों की संख्या सीमित रखने को कहा है।
दो हजार से अधिक विमान हुए रद
सस्ती एयरलाइंस एजीजेट ने आखिरी समय में कैंसिलेशन से बचने के लिए गर्मियों की हजारों उड़ानों को अभी से सीमित करना शुरू कर दिया है। इस महीने एक ही हफ्ते में यूरोपीय हवाई अड्डों पर दो हजार से अधिक उड़ानों को रद कर दिया गया है। इसमें से शिफोल में ही अकेले नौ फीसद उड़ानें रद की गई हैं। ब्रिटेन के हवाई अड्डों से 376 उड़ानें रद की गई हैं। पिछले हफ्ते हीथ्रो हवाई अड्डे पर अज्ञात सामान की कतारों से एयरपोर्ट का एक बड़ा हिस्सा पट गया था। कम स्टाफ के कारण इस सामान को गंतव्य तक पहुंचाने वाला कोई नहीं था।
इससे एयरपोर्ट को दस फीसद फलाइट रद करनी पड़ीं और इससे करीब पांच हजार यात्री प्रभावित हुए। संभवत: बहुत से यात्रियों ने बिना सामान के ही यात्रा करने में भलाई समझी और अपना सामान एयरपोर्ट पर ही छोड़ गए। यात्रियों को खुद अपना सामान तलाश करना पड़ रहा है और उसमें कई घंटे लग जा रहे हैं। संकट के इस समय में एयर फ्रांस के पायलटों ने हड़ताल पर जाने की धमकी दी है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta