विश्व

इंजीनियरिंग छोड़ पक्षियों को बेच रहा पाकिस्तानी शख्स, जुनून के लिए आलीशान जॉब को मारी लात

Neha Dani
19 Nov 2021 8:30 AM GMT
इंजीनियरिंग छोड़ पक्षियों को बेच रहा पाकिस्तानी शख्स, जुनून के लिए आलीशान जॉब को मारी लात
x
पक्षियों को लेकर उनके इसी प्यार के चलते उनका इंजीनियरिंग से मोह भंग हो गया और वह इस काम की ओर मुड़ गए।

एक ब्रिटिश-पाकिस्तानी एयरोस्पेस इंजीनियर ने अपने फुल-टाइम जॉब को छोड़कर अपने जुनून को आगे बढ़ाने का फैसला लिया। शख्स ने पक्षियों के प्रजनन और बिक्री को बढ़ाने के लिए अपनी करोड़ों की नौकरी से किनारा कर लिया। 30 साल के अब्दुल सत्तार हुसैन ने यूनिवर्सिटी ऑफ हर्टफोर्डशायर से पढ़ाई की है। उन्होंने अपनी नौकरी की शुरुआत लंदन सिटी एयरपोर्ट से की थी। बाद में वह सेंट्रल लंदन में एक एयरोस्पेस इंजीनियरिंग के रूप में नियुक्त किए गए।

कोविड-19 महामारी के दौरान लगे लॉकडाउन में उनका ध्यान अपने घर की एक शेड से पक्षियों को बेचने पर गया। कुछ समय बाद उन्होंने अपने इसी जुनून को आगे बढ़ाने के लिए अपनी आलीशान नौकरी से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने पाकिस्तान के प्रसिद्ध तोते मियां मिट्ठू सहित कई पक्षियों का प्रजनन भी शुरू कर दिया है। सत्तार ने शुरुआत में पक्षियों को ऑनलाइन बेचना शुरू किया और जल्द ही उनके घर बाहर लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई जो पक्षियों को देखने और खरीदने की मांग कर रहे थे।
पड़ोसियों ने की शोर की शिकायत
पड़ोसियों ने स्थानीय अधिकारियों से शिकायत करते हुए कहा कि पक्षी बहुत शोर मचाते हैं और ग्राहक उनके घरों के बाहर भीड़ लगाकर खड़े होते हैं। पाकिस्तानी इंजीनियर ने पेशेवर रूप से पक्षियों को बेचने के लिए एसेक्स में पूर्वी लंदन के हैनॉल्ट के एक औद्योगिक क्षेत्र में एक यूनिट की स्थापना करने का फैसला लिया। क्योंकि उन्हें अपना यह व्यवसाय इंजीनियरिंग की नौकरी से ज्यादा फायदेमंद लगा। हालांकि पैसों के लालच में सत्तार ने पक्षियों को बेचना शुरू नहीं किया है। यह उनका पक्षियों के लिए प्यार है जो उन्हें इस काम की ओर खींच लाया।
मां ने गिफ्ट की थी पहली चिड़िया
सत्तार को उनकी पहली चिड़िया उनकी मां ने तोहफे में दी थी। इसके बाद उनके माता-पिता ने उन्हें एक ब्लू इंडियन रिंग-नेक पैराकीट खरीदकर दिया था। सत्तार यूनिवर्सिटी में पढ़ने के दौरान उस पक्षी को अपने साथ लेकर गए थे। जियो न्यूज से बात करते हुए उन्होंने कहा कि करीब आठ साल बाद एक दिन अचानक वह चिड़िया मर गई और मेरा दिल टूट गया। मैं बहुत रोया और आज तक मैं उसे बहुत याद करता हूं। किसी पक्षी से प्यार करना अपने आप में अद्भुत है। पक्षियों को लेकर उनके इसी प्यार के चलते उनका इंजीनियरिंग से मोह भंग हो गया और वह इस काम की ओर मुड़ गए।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta