विश्व

कोयला खदान अग्निकांड में जिंदा बचा एक शख्स, मारे गए 51 लोग

Gulabi
26 Nov 2021 12:04 PM GMT
कोयला खदान अग्निकांड में जिंदा बचा एक शख्स, मारे गए 51 लोग
x
कोयला खदान अग्निकांड में जिंदा बचा एक शख्स
Russia Coal Mine Accident Update: रूस के साइबेरिया में उस कोयला खदान में बचावकर्मियों को एक व्यक्ति जीवित मिला है, जहां गुरुवार शाम आग लग गई थी और कई खनिकों की मौत होने की आशंका है. एक शीर्ष स्थानीय अधिकारी ने शुक्रवार को यह घोषणा की. यह खदान केमेरोवो (Kemerovo Region) में स्थित है. केमेरोवो के गवर्नर सर्गेई त्सिविलोव ने मैसेजिंग ऐप टेलीग्राम पर कहा कि जीवित मिला व्यक्ति दक्षिण-पश्चिमी साइबेरिया में लिस्टवियाजनाया खदान (Listvyazhnaya Mine) में पाया गया और 'उसे अस्पताल ले जाया जा रहा है.'
कार्यवाहक आपातकालीन मंत्री अलेक्जेंडर चुप्रियन ने कहा कि खदान में पाया गया व्यक्ति एक बचावकर्ता था, जिसे मृत मान लिया गया था. अधिकारियों ने गुरुवार को 14 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की थी- 11 खनिक मृत पाए गए और तीन बचावकर्मियों की बाद में मौत हो गई, जो खदान के एक सुदूर हिस्से में फंसे अन्य लोगों की तलाश कर रहे थे (Russia Mine Incident). शुक्रवार सुबह छह और शव बरामद किए गए और 31 लोग लापता हैं. गवर्नर सिविलीव ने कहा कि इस वक्त अन्य बचे लोगों को ढूंढना बेहद असंभव है.
मिथेन गैस विस्फोट के बाद लगी आग
गुरुवार को मीथेन गैस विस्फोट और खदान में आग लगने के कुछ घंटे बाद, आग से मीथेन और कार्बन मोनोऑक्साइड गैस फैलने के कारण बचाव दल को खोज को रोकने के लिए मजबूर होना पड़ा (Fire in Russia Coal Mine). केमेरोवो के अधिकारियों के अनुसार, कुल 239 लोगों को खदान से बचाया गया, जिनमें से 63 ने शुक्रवार सुबह तक चिकित्सा सहायता मांगी है. आधिकारिक समाचार एजेंसी 'तास' और 'आरआईए-नोवोस्ती' ने आपात सेवाओं के अधिकारियों के हवाले से बताया कि किसी के जिंदा बचने की कोई उम्मीद नहीं है और शाम तक मृतक संख्या 52 बताई थी. शुक्रवार सुबह एक व्यक्ति के जीवित मिलने के बाद मृतक संख्या घटकर 51 हो गई है.
तीन दिन के शोक की घोषणा हुई
क्षेत्रीय अधिकारियों ने तीन दिन के शोक की घोषणा की है. रूस की जांच समिति ने सुरक्षा नियमों के उल्लंघन के कारण आग लगने के आरोप की आपराधिक जांच शुरू की है (Siberia Coal Mine Blast). खदान के निदेशक और दो वरिष्ठ प्रबंधकों को हिरासत में भी लिया गया है. इस महीने की शुरुआत में खदान का निरीक्षण करने वाले राज्य के अधिकारियों की कथित लापरवाही के लिए शुक्रवार को एक और आपराधिक जांच शुरू की गई है.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it