विश्व

नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई को मिली जान से मरने की धमकी, अब आत्मघाती हमले की चेतावनी

Neha
10 Jun 2021 11:53 AM GMT
नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई को मिली जान से मरने की धमकी, अब आत्मघाती हमले की चेतावनी
x
एक कठिन मसले पर अपने मन की बात कहने के लिए मलाला की तारीफ भी की.

खैबर पख्तूनख्वा (Khyber Pakhtunkhwa) के लक्की मारवात जिले में एक धार्मिक नेता को नोबेल पुरस्कार विजेता (Nobel Award Winner) मलाला यूसुफजई (Malala Yousafzai) की शादी पर की गई हालिया टिप्पणियों के लिए कथित तौर पर धमकी देने और हिंसा (Violence) के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. गुरुवार की इसकी जानकारी मिली.

Vogue मैग्जीन के साथ एक इंटरव्यू में शादी के बारे में पूछे जाने पर मलाला ने कहा था कि मुझे अभी भी समझ नहीं आया कि लोगों को शादी क्यों करनी पड़ती है. उन्होंने कहा कि अगर आप अपने जीवन में एक व्यक्ति चाहते हैं तो आपको शादी के कागजात पर हस्ताक्षर करने की क्या जरूरत है. ये पार्टनरशिप क्यों नहीं हो सकती?
वीडियो वायरल होने के बाद कार्रवाई
पाकिस्तानी न्यूज वेबसाइट डॉन से बात करते हुए लक्की मारवात जिला पुलिस कार्यालय ने पुष्टि की कि गिरफ्तारी बुधवार को हुई थी. पुलिस ने बताया कि मौलवी, मुफ्ती सरदार अली हक्कानी को आतंकवाद विरोधी अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज करने के बाद गिरफ्तार किया गया था.
एफआईआर के हवाले से रिपोर्ट में कहा गया कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें मुफ्ती सरदार पेशावर में लोगों को कानून अपने हाथ में लेने और मलाला पर हमला करने के लिए उकसा रहा था. इस मामले में एसएचओ वसीम सज्जाद खान शिकायतकर्ता हैं. एफआईआर में कहा गया है कि इस दौरान धर्मगुरु भी हथियारों से लैस दिखाई दे रहा था.
आत्मघाती हमले की धमकी
एफआईआर के मुताबिक मौलाना ने कहा, 'जब मलाला पाकिस्तान आएंगी तो मैं सबसे पहले उन पर आत्मघाती हमला करने की कोशिश करूंगा.' शिकायत कहा गया कि उनके भाषण से शांति को खतरा था और इसने अराजकता को उकसाया. इसमें कहा गया कि मुफ्ती ने कानून को अपने हाथ में ले लिया. एफआईआर दर्ज होने के बाद पुलिस की टीम ने एक घर पर छापा मारा और उसे गिरफ्तार कर लिया.
पिता ने लोगों से की अपील
कई सोशल मीडिया यूज़र्स मलाला के इस बयान के बाद उनकी जमकर आलोचना कर रहे हैं. ये आलोचना इस हद तक बढ़ गई कि मलाला के पिता ज़ियाउद्दीन यूसुफ़ज़ई को यह समझाना पड़ा कि उनकी बेटी के इंटरव्यू को तोड़ मरोड़ कर पेश किया जा रहा है. कुछ यूज़र्स ने इस बयान को "ग़ैर-इस्लामी" कहा, तो दूसरी तरफ कुछ लोगों ने एक कठिन मसले पर अपने मन की बात कहने के लिए मलाला की तारीफ भी की.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it