Top
विश्व

NASA के परसिवरेंस रोवर ने मंगल ग्रह पर ली अपनी पहली सेल्फी

Gulabi
9 April 2021 8:23 AM GMT
NASA के परसिवरेंस रोवर ने मंगल ग्रह पर ली अपनी पहली सेल्फी
x
NASA का परसिवरेंस रोवर

First Selfie of Perseverance Rover on Mars: अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (National Aeronautics and Space Administration) के परसिवरेंस रोवर (Perseverance Rover) ने मंगल ग्रह पर एक सेल्फी ली है. जिसमें उसके साथ हेलीकॉप्‍टर इंजेंविनिटी (Ingenuity) भी दिखाई दे रहा है. नासा की जेट प्रोपल्सन लैब (जेपीएल) के अनुसार, ये तस्वीर उन 62 तस्वीरों में से एक है, जिन्हें परसिवरेंस ने मंगल ग्रह पर अब तक लिया है (Mars Rover Selfie). परसिवरेंस मार्स रोवर के ट्विटर अकाउंट पर इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा गया है, 'टू बोट्स, वन सेल्फी.'


ये इस मिशन की पहली सेल्फी है. इसमें बताया गया है कि इंजेंविनिटी कुछ दिनों में अपनी पहली उड़ान भरने के लिए तैयार है. लाल ग्रह पर ये तस्वीर मंगलवार को ली गई है. रोवर ने ये तस्वीर WATSON (वाइड एंगल टोपोग्राफिक सेंसर फॉर ऑपरेशंस एंड इंजीनियरिंग) कैमरा की मदद से ली है. ये SHERLOC (स्कैनिंग हैबिटेबल एनवायरनमैंट विद रामन एंड ल्यूमिनेसेंस फॉर ऑर्गेनिक्स एंड केमिकल्स) का हिस्सा है. जो रोवर के आर्म पर आखिर में लगा हुआ है. हेलीकॉप्‍टर इंजेंविनिटी रोवर की बैली में लगा था, जो बीते हफ्ते अलग हुआ है.


हेलिकॉप्टर की होगी कंट्रोल फ्लाइट
नासा का कहना है कि हेलिकॉप्टर शायद 11 अप्रैल से पहले अपनी पहली उड़ान नहीं भर पाएगा. नासा ने कहा है, 'जब टीम पहली उड़ान के लिए तैयार हो जाएगी, तब परसिवरेंस रोवर जेपीएल मिशन कंट्रोलर्स से मिले अंतिम दिशा निर्देशों को प्राप्त कर उन्हें इंजेंविनिटी तक पहुंचाएगा (NASA Perseverance Landing). उड़ान का सटीक समय निर्धारित करने के पीछे कई कारक हैं.' नासा इस उड़ान को लेकर काफी उत्साहित है. हेलिकॉप्टर की जल्द ही कंट्रोल फ्लाइट भी होगी, जो किसी भी दूसरे ग्रह पर होने वाली इस तरह की पहली उड़ान है.

तस्वीर में दिखा इंद्रधनुष
इससे पहले 7 अप्रैल को भी रोवर ने मंगल पर एक तस्वीर ली थी. कहा जा रहा है कि इस तस्वीर में इंद्रधनुष बना दिखाई दे रहा है. इसपर वैज्ञानिकों ने कहा है कि मंगल ग्रह पर ऐसा होना मुमकिन नहीं है क्योंकि वहां पानी तरल रूप में मौजूद नहीं है और तापमान भी काफी कम है. इसलिए हो सकता है कि यह नासा के कैमरे की चमक की वजह से हुआ है. नासा का ये रोवर मंगल ग्रह के जेजीरो क्रेटर (NASA Perseverance Landing) पर उतरा है. जहां बड़ी चट्टानें और ऊंची पहाड़ियां हैं. नासा के परसिवरेंस रोवर का उद्देश्य ये पता लगाना है कि क्या यहां कभी पानी की मौजूदगी थी. इसके अलावा यहां जीवन से जुड़ी संभावनाओं का भी पता लगाया जाएगा.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it