विश्व

NASA ने टेस्ट किया सबसे शक्तिशाली रॉकेट का अहम हिस्सा, चांद पर जल्द भेजेंगे इंसान

Gulabi
20 March 2021 8:28 AM GMT
NASA ने टेस्ट किया सबसे शक्तिशाली रॉकेट का अहम हिस्सा, चांद पर जल्द भेजेंगे इंसान
x
NASA

अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA ने अपने मेगा-रॉकेट की कोर स्टेज को गुरुवार को टेस्ट किया। 'हॉट फायर' कहे जाने वाले इस टेस्ट में चार RS-25 इंजिन टेस्ट किए गए। करीब 8 मिनट तक इन्हें चलाया गया। इतना ही वक्त अपर-स्टेज रॉकेट और ऑर्बिट में स्पेसशिप को डिलिवर करने के लिए लगेगा। रॉकेट टेस्ट के दौरान टेस्ट स्टैंड से धुएं का गुबार निकला और जब इंजन में ईंधन पूरी तरह से जल गया तब टेस्ट कंट्रोलर्स ने आपस में खुशी जताई।

'डेटा में पता चलेगा, कितनी सफलता'
टेस्टिंग प्रोग्राम के मैनेजर बिल व्रोबल ने कहा, 'अब बहुत सारा ऐसा डेटा है जिसका अनैलेसिस किया जाना है लेकिन तालियों से पता चलता है कि टीम को कैसा लगता है।' जब तक डेटा में कोई समस्या नहीं दिखती है, इस टेस्ट को सफल माना जाएगा और इसे NASA के कोर स्टेज एजेंसी के चांद पर जाने वाले रॉकेट में फिट करने के लिए तैयार माना जाएगा। इस रॉकेट का नाम Space Launch System (SLS) है जो एजेंसी के Artemis प्रोग्राम का हिस्सा है। इसके जरिए 1972 के बाद पहली बार इंसान को चांद पर भेजा जाएगा और चांद की कक्षा में स्पेस स्टेशन बनाने की तैयारी की जाएगी।


'एक टुकड़े में लगी आग'
सबसे पहले SLS को बिना ऐस्ट्रोनॉट के चांद पर भेजा जाएगा और वापस भी आएगा। इस मिशन Artemis 1 मिशन को साल के आखिर से पहले लॉन्च किया जा सकता है। एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में SLS के प्रोग्राम मैनेजर जॉन हनीकट ने बताया, 'कोर स्टेज में आज A+ मिला है।' अभी तक इस टेस्ट में एक चीज देखी गई कि एक इंजन के कॉर्क इन्सुलेशन में आग लग गई। हालांकि, हनीकट का कहना है कि फ्लाइट के दौरान ऐसा नहीं होगा क्योंकि रॉकेट अपने इंजन पर बैठा नहीं रहेगा और आसमान में निकल जाएगा।
फ्लोरिडा में रॉकेट तक जाएगा
रॉकेट का कोर स्टेज SLS का सबसे बड़ा हिस्सा होता है और इसकी स्ट्रक्चरल बैकबोन भी। यह दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे शक्तिशाली रॉकेट स्टेज है। गुरुवार को 212 फुट का यह स्टेज मिसिसिपी के स्टेनिस स्पेस सेंटर में टेस्ट की गई। इससे यह सुनिश्चित किया गया कि स्टेज के इंजन लॉन्चपैड से धरती की कक्षा तक का सफर तय कर सकेंगे। अगर डेटा भी इस पर मुहर लगाता है तो NASA इसे अप्रैल में फ्लोरिडा के केनेडी स्पेस सेंटर ले जाएगा जहां SLS का बाकी हिस्सा रखा है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta