विश्व

दो माह में अमेरिका में ओमिक्रोन से 1 लाख से ज्यादा मौत, कोरोना से मरने वालों की संख्या नौ लाख पार

Renuka Sahu
6 Feb 2022 12:49 AM GMT
दो माह में अमेरिका में ओमिक्रोन से 1 लाख से ज्यादा मौत, कोरोना से मरने वालों की संख्या नौ लाख पार
x

फाइल फोटो 

कोविड के ओमिक्रॉन वैरिएंट की लहर के बीच अमेरिका में महामारी से मरने वालों की कुल संख्या नौ लाख से ज्यादा हो गई है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कोविड के ओमिक्रॉन वैरिएंट की लहर के बीच अमेरिका में महामारी से मरने वालों की कुल संख्या नौ लाख से ज्यादा हो गई है। बीते दो माह में ही अमेरिका एक लाख से ज्यादा लोगों की ओमिक्रॉन संक्रमण की वजह से मौत हो चुकी है।

कोविड संक्रमण से मौत के मामलों में अमेरिका दुनिया में शीर्ष पर है। अमेरिका के बाद ब्राजील, भारत और रूस में कोविड की से सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। हालांकि, प्रति दस लाख लोगों के हिसाब से अमेरिका में मौत का आंकड़ा बहुत भयावह है।
जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के मुताबिक दो वर्ष के दौरान कोविड से होने वाली मौत के मामले इंडियानापोलिस, सैन फ्रांसिस्को, शार्लोट और उत्तरी कैरोलिना जैसे शहरों की आबादी से ज्यादा हैं। जबकि, इस अवधि में बीते 13 महीने से लगातार कोविड टीकाकारण जारी है।
ब्राउन यूनिवर्सिटी स्कूल के डीन डॉ. आशीष झा कहते हैं कि अगर दो साल पहले अमेरिकियों को कोई यह कहता कि यह महामारी 900,000 से ज्यादा अमेरिकियों का काल बन जाएगी, तो कोई इसपर यकीन नहीं करता। डॉ. झा कहते हैं कि महामारी से निपटने में चिकित्सा विज्ञान के प्रयासों में कोई कमी नहीं रही है, लेकिन दुर्भाग्य से सामाजिक विज्ञान में असफल रहे। लोगों को टीकाकरण के राजनीतिकरण और इसके खिलाफ दुष्प्रचार से नहीं रोका जा सका।
कोविड से बचाव और रोकथाम के नियमों का गंभीरता और स्वेच्छा से पालन करने वाला समाज बनाने में अमेरिका असफल रहा। झा ने कहा कि अगर हालात नहीं बदलते तो अप्रैल तक अमेरिका में कोविड से मौत के कुल मामले दस लाख से पार हो जाएंगे।
राष्ट्रपति जो बाइडन ने शुक्रवार को कहा, महामारी के भावनात्मक, शारीरिक और मनोवैज्ञानिक भार को सहन करना अविश्वसनीय रूप से कठिन रहा है। साथ ही, बाइडन ने कहा कि टीकाकरण से कम से कम दस लाख से अधिक लोगों की जान बची है। वहीं, रोग नियंत्रण व निवारण केंद्र (सीडीसी) के मुताबिक अमेरिका में अभी तक केवल 64 फीसदी लोगों ने ही टीके की दोनों खुराकें ली हैं।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta