विश्व

किम जोंग उन की कोरोना के खिलाफ जंग बेअसर, हर दिन मिल रहे एक लाख से ज्यादा कोविड केस, मगर कहा- काबू में हालात

Renuka Sahu
24 May 2022 5:28 AM GMT
Kim Jong Uns war against Corona ineffective, more than one lakh Kovid cases are being received every day, but said- situation under control
x

फाइल फोटो 

उत्तर कोरिया ने मंगलवार को कहा कि देश में कोविड-19 से हालात स्थिर हो रहे हैं.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। उत्तर कोरिया (North Korea) ने मंगलवार को कहा कि देश में कोविड-19 से हालात स्थिर हो रहे हैं. इसने कहा कि कोविड के केस घटते हुए नजर आने लगे हैं. उत्तर कोरिया ने कहा कि मंगलवार को लगातार तीसरे दिन दो लाख से कम नए मामले रिपोर्ट हुए हैं. हालांकि, तानाशाह किम जोंग उन की सरकार ने कहा है कि देश में हालात काबू में हैं. उत्तर कोरिया ने पहली बार 12 मई कोविड प्रकोप की जानकारी दी थी. हालांकि, देश में वैक्सीन की कमी, अपर्याप्त मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर और संभावित खाद्य संकट ने चिंताएं बढ़ा दी हैं. देश की आबादी 2.5 करोड़ है और अभी तक 20 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं. यहां गौर करने वाली बात ये है कि उत्तर कोरिया ने कोरोना को 'बुखार' बताया है. इसने खुलकर कोविड महामारी नहीं कहा है.

आधिकारिक न्यूज एजेंसी KCNA ने कहा कि सोमवार शाम तक 1,34,510 और लोगों में बुखार जैसे लक्षण देखने को मिले हैं. इस तरह अप्रैल के आखिर से अब तक बुखार से जुड़े मामलों की संख्या 2.95 लाख हो गई है. अभी तक 68 लोगों की मौत हुई है. KCNA ने कहा कि उत्तर कोरिया को कोविड प्रकोप से निपटने में सफलता मिल रही है. इसने अपनी रिपोर्ट में कहा, 'मैक्सिसम इमरजेंसी एपिडेमिक प्रीवेंशन सिस्टम एक्टिवेड करने के कुछ दिनों बाद देश में मृत्यु दर और संक्रमितों की दर में गिरावट हुई है. साथ ही रिकवर हुए लोगों की संख्या बढ़ गई है. इसका नतीजा ये निकला है कि सफलतापूर्वक महामारी को काबू किया गया है और स्थिर हालात बनाए गए हैं.'
सेना को लोगों की मदद के लिए लगाया गया
उत्तर कोरिया ने कहा कि वह जरूरी दवाओं के प्रोडक्शन को बढ़ा रहा है. हालांकि, इसने ये नहीं बताया कि किस तरह की दवाओं को तैयार किया जा रहा है. टेस्ट किट की कमी से जूझ रहे उत्तर कोरिया ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि कोरोनावायरस से असल संख्या में कितने लोग संक्रमित पाए गए हैं. इसके बजाय देश के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बुखार के लक्षण वाले लोगों की संख्या को जारी किया है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस वजह से कोविड की लहर का अंदाजा लगाना चुनौतीपूर्ण हो रहा है. उत्तर कोरिया ने कहा है कि अधिकारी देशभर में खाने और दवाओं की सप्लाई कर रहे हैं. इसके अलावा, लोगों की जांच करने और दवाओं के वितरण के लिए सेना को लगाया गया है.
वहीं, सोमवार को कोरोना के खतरे के बीच उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन समेत बड़ी संख्या में लोग देश के एक शीर्ष अधिकारी के अंतिम संस्कार में शामिल हुए. गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने सार्स-कोव-2 वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट के संक्रमण के मामले आने की बात इस महीने की शुरुआत में स्वीकार की थी. हालांकि, वह केवल इतना बता रहा है कि रोजाना कितने लोगों को बुखार आ रहा है और इनमें से कुछ ही मामलों में उसने कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि की है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta