Top
विश्व

पत्रकार को अगवा कर पीटा...प्रधानमंत्री और उनके परिजनों के ऊपर लगाए ये गंभीर आरोप...कपड़े उतार कर बनाया वीडियो

Rounak
24 Feb 2021 12:58 AM GMT
पत्रकार को अगवा कर पीटा...प्रधानमंत्री और उनके परिजनों के ऊपर लगाए ये गंभीर आरोप...कपड़े उतार कर बनाया वीडियो
x

फाइल फोटो 

पत्रकार की पिटाई

चरसड्डा/पेशावर: पाकिस्तान में अपने खिलाफ खबर चलने बौखलाए प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के लोगों ने एक पत्रकार को अगवा कर लिया और उसे पार्टी कार्यालय में ले जाकर खूब यातनाएं दी. अब किसी तरह पीटीआई के गुंडो से बचकर भागे पत्रकार ने प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार और इमरान खान पर गंभीर आरोप लगाए हैं और पूरे मामले की न्यायिक जांच की मांग की है. पीड़ित पत्रकार का नाम सैफुल्लाह जान (Saifullah Jan) है और वो चरसड्डा प्रेस क्लब की गवर्निंग बॉडी के सदस्य हैं.

प्रेस कांफ्रेंस कर लगाए गंभीर आरोप
सैफुल्लाह खान ने कहा कि उन्हें पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेताओं जिसमें अब्दुल्लाह, उनके भाई फहीम, जकात कमेटी के चेयरमैन इफ्तिखार और अन्य हथियार बंद लोगों ने अगवा कर लिया और चरसड्डा बाजार में स्थित पीटीआई (PTI) के कार्यालय में लेकर गए. वहां उन लोगों ने मुझे नंगा किया और जमकर टॉर्चर किया. एएनआई की खबर के मुताबिक द न्यूज इंटरनेशनल ने कहा कि सैफुल्लाह खान का वीडियो भी बनाया गया है, जब उनके कपड़े उतार दिए गए थे.
स्थानीय लोगों के दबाव के बाद छोड़ा
सैफुल्लाह जान ने कहा कि पीटीआई के लोगों ने उन्हें तब छोड़ा, जब स्थानीय लोगों ने उनपर दबाव बनाया. पीड़ित ने कहा कि जिले के पुलिस अधिकारी मोहम्मद शोएब ने स्थानीय सरदारी पुलिस स्टेशन के पुलिसकर्मियों को केस दर्ज करने का आदेश दिया था, लेकिन स्थानीय पुलिस मामले में जान बूझकर देरी कर रही है. और न उपयुक्त धाराओं में केस भी दर्ज नहीं किया. पत्रकार ने कहा कि पिटाई की वजह से उनका पैर फ्रैक्चर हो गया. लेकिन पुलिस ने एफआईआर में लिखा है कि उन्हें मालूमी चोटें आई हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस ने मुख्य अभियुक्त इफ्तिखार का नाम एफआईआर में डाला ही नहीं है. यही नहीं, पेशावर हाइकोर्ट के आदेश के बावजूद पुलिस ने उन्हें मुख्य आरोपी नहीं बनाया और स्थानीय कोर्ट ने इफ्तिखार को जमानत दे दी.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it