अन्य

वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार के चलते इमरान सरकार निराश, वैक्सीन के लिए वर्ल्ड बैंक दान करेगा 11 अरब रुपये

Neha
15 May 2021 7:39 AM GMT
वैक्सीनेशन की धीमी रफ्तार के चलते इमरान सरकार निराश, वैक्सीन के लिए वर्ल्ड बैंक दान करेगा 11 अरब रुपये
x
तब से लेकर अब तक पाकिस्तान को वर्ल्ड बैंक से 40 बिलियन अमेरिकी डॉलर की सहायता मिल चुका है.

पाकिस्तान में कोरोनावायरस (Coronavirus in Pakistan) की तीसरी लहर ने कहर ढाया हुआ है. हर दिन लोग संक्रमित हो रहे हैं, ऊपर से वैक्सीनेशन (Vaccination) की धीमी रफ्तार के चलते इमरान खान (Imran Khan) की सरकार लोगों के निशाने पर है. ऐसे में पाकिस्तान (Pakistan) के वैक्सीनेशन अभियान को मदद पहुंचाने के लिए वर्ल्ड बैंक (World Bank) ने 153 मिलियन अमेरिकी डॉलर (11 अरब रुपये) देने के प्रावधान को मंजूरी दी है. वर्ल्ड बैंक द्वारा पाकिस्तान को पैसे देने का ऐलान ऐसे समय पर आया है, जब इसने कहा है कि ये गरीब मुल्कों को वैक्सीन खरीदने और इसके वितरण के लिए मदद करेगा.

वर्ल्ड बैंक ने 13 मई तक 21 देशों में 2 बिलियन अमेरीकी डॉलर से अधिक की वैक्सीन परियोजनाओं को मंजूरी दी है. गुरुवार को जारी प्रेस बयान के अनुसार, ये फंड स्वास्थ्य प्रणाली की प्राथमिकता और योग्य आबादी के लिए वैक्सीनेशन अभियान को लागू करने की क्षमता को मजबूत करने में मदद करेंगे. पाकिस्तान के लिए वर्ल्ड बैंक के डायरेक्टर नाजी बेन्हासिन ने कहा, मार्च 2021 में पाकिस्तान में कोविड-19 की तीसरी लहर देखने को मिली. कोरोना की इस लहर के चलते लोगों की जान पर बन आई और लाखों लोगों की आजीविका प्रभावित हुई है.
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका को भी मदद दे रहा है वर्ल्ड बैंक
नाजी बेन्हासिन ने कहा, वर्ल्ड बैंक इस सार्वजनिक स्वास्थ्य संकट को दूर करने में पाकिस्तान का समर्थन करने के लिए एक प्रतिबद्ध भागीदार बना हुआ है. इसके लिए वह पाकिस्तान को वैक्सीनेशन और महामारी के सामाजिक और आर्थिक प्रभावों से निपटने के लिए सहायता प्रदान कर रहा है. पाकिस्तान को वैक्सीन के लिए आर्थिक सहायता मुहैया कराने के अलावा, वर्ल्ड बैंक ने वैक्सीनेशन और वैक्सीन खरीद के लिए अफगानिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल और श्रीलंका को 768.5 मिलियन अमेरिकी डॉलर मुहैया कराया है.
पाकिस्तान में अब तक 39 लाख लोगों का हुआ वैक्सीनेशन
दुनिया के विभिन्न देशों को फंड मुहैया कराने के अलावा वर्ल्ड बैंक दक्षिण एशिया के देशों के लिए निष्पक्ष और न्यायसंगत वैक्सीन रणनीतियों के डिजाइन करने और उसे लागू करने में मदद भी कर रहा है. इसके लिए वह विभिन्न पहलुओं पर तकनीकी सहायता और जानकारी मुहैया करा रहा है. जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में अब तक सिर्फ 39,97,186 लोगों का ही वैक्सीनेशन हो पाया है. बता दें कि पाकिस्तान 1950 से ही वर्ल्ड बैंक का सदस्य है. तब से लेकर अब तक पाकिस्तान को वर्ल्ड बैंक से 40 बिलियन अमेरिकी डॉलर की सहायता मिल चुका है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it