Top
विश्व

अगर बिडेन जीत जाते हैं, तो चीन जीत जाएगा: ट्रंप

Admin2
17 Oct 2020 6:40 AM GMT
अगर बिडेन जीत जाते हैं, तो चीन जीत जाएगा: ट्रंप
x
चुनावी रैली देखकर ट्रंप आए जोश में बिडेन अमेरिकी चुनाव इतिहास के सबसे कमजोर उम्मीदवार

नई दिल्ली /उत्तर कैरोलिना। चुनावी रैली में भीड़ देखकर जोश में आए ट्रंप ने कहा, मैं राष्ट्रपति की राजनीति के इतिहास में सबसे खराब उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ रहा हूं और अगर मैं हार जाता हूं, तो यह मेरे लिए बहुत बड़ी चिंता की बात होगी। काश वह अच्छा होता, तो मुझपर दबाव कम होता। उन्होंने कहा, यह चुनाव एक सरल विकल्प है. अगर बिडेन जीत जाते हैं, तो चीन जीत जाएगा. ऐसे सभी अन्य देश जीत जाएंगे. सब हमें नुकसान पहुंचाएंगे. यदि हम जीतते हैं, तो आप जीतते हैं, पेंसिल्वेनिया जीतता है और अमेरिका जीतता है. बहुत ही सीधी बात है।

हैरिस ने भी ट्रंप प्रशासन को बताया सबसे नाकाम प्रशासन : वहीं डेमोक्रेटिक पार्टी से उप राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने कोरोना वायरस से निपटने में नाकाम रहने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की और कहा कि अमेरिका के इतिहास में ट्रंप का प्रशासन सर्वाधिक नाकाम रहा है. हैरिस ने कहा कि लाखों लोग ट्रंप की नाकामी का खमियाजा भुगत रहे हैं. अमेरिका को एक नए राष्ट्रपति की जरूरत है जो विज्ञान को अपनाए, जो तथ्यों और सच्चाई के हिसाब से काम करे, जो अमेरिकी अवाम से सच बोले और जिसके पास कोई योजना हो।

हैरिस ने कहा, हमारे देश के इतिहास में यह राष्ट्रपति और उनका प्रशासन सबसे ज्यादा नाकाम है। आप जरा अतीत में जाइए और देखिए कि उन्हें क्या पता था, चलिए 28 जनवरी से शुरुआत करते हैं, जब राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति को बताया गया कि यह बीमारी जानलेवा है, यह बच्चों को नुकसान पहुंचा सकता है, यह सामान्य सर्दी जुकाम से पांच गुना ज्यादा जानलेवा है, लेकिन उन्होंने यह जानकारी छुपाई, उन्होंने यह जानकारी अमेरिका की जनता के साथ शेयर नहीं की।

अमेरिका चुनाव- ट्रंप की वापसी लगभग तय : अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव नजदीक है। चुनाव प्रचार में ट्रंप अभी आगे चल रहे है। रायपुर में पले बढ़े ह्यूसटन निवासी ने फोन पर हुई चर्चा में बताया कि राष्ट्रपति ट्रंप कोरोनाकाल में बेरोजगारों को दो हजार डालर प्रतिमाह दे रहे है। व्यापारिक पृष्ठभूमि के ट्रंप को व्यापारियों का पूरा समर्थन मिल रहा है। सभी अमेरिकी माडिया घराने को ट्रंप अपने फेवर में कर चुके है। काले और गोरों की लड़ाई के बावजूद ट्रंप भारी पड़ते दिख रहे है। ट्रंप ने अमेरिका के एएसे व्यापारी है जिनका सालाना टर्न ओवर 70 हजार डालर तक है. उनको भी 2000 डालर परतिमाह दे रहे है। जिसका लाभ वहां के लोकल सिटीजंस को भी मिल रहा है। कोरोना काल में सबके हित में अच्छा काम कर सबका दिल जीत लिया है। ह्यूसटन के नागरिक जो रायपुर से ताल्लुक रखते है ने बताया कि बारतीय मूल के अमेरिकी नागरिकों और व्यापारियों ने बी ट्रंप पर भरोसा जताने का वादा किया है। बहरहाल जो भ ीहो ऊंट किस करवट बैठेगा वक्त बताएगा। लेकिन ह्यूसटन और असियान के राज्यों से जो खबर मिल रही है इसमें ट्रंप की दोबारा ताजपोशी की संभावना व्यक्त की जा रही है।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it