विश्व

दो साल में उत्तर कोरिया में मिला कोरोना वायरस का पहला केस, सहमे किम ने देश में लगा दिया लॉकडाउन

Renuka Sahu
12 May 2022 1:43 AM GMT
First case of corona virus found in North Korea in two years, shocked Kim imposed lockdown in the country
x

फाइल फोटो 

उत्तर कोरिया ने गुरुवार को अपने यहां पहले कोविड-19 केस सामने आने की जानकारी दी.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। उत्तर कोरिया ने गुरुवार को अपने यहां पहले कोविड-19 (Covid-19 in North Korea) केस सामने आने की जानकारी दी. देश के सरकारी मीडिया ने इसे 'गंभीर राष्ट्रीय आपातकालीन घटना' बताया है. कोरोनावायरस (Coronavirus in North Korea) को दुनिया में सामने आए दो साल से अधिक समय हो चुका है, लेकिन अब से पहले तक उत्तर कोरिया (North Korea) ने अपने यहां कोरोना के मामलों के सामने आने की जानकारी नहीं दी थी. आधिकारिक KCNA समाचार एजेंसी ने कहा कि कोविड के रिपोर्ट किए गए नए मामले वायरस के खतरनाक ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant Covid Case in North Korea) से जुड़े हुए हैं.

KCNA ने बताया कि गुरुवार को राजधानी प्योंगयांग में कई लोगों के ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित होने की पुष्टि हुई. उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने देश में कोविड निवारक उपाय को कड़ा करने पर जोर दिया है. किम ने सत्तारूढ़ कोरियाई वर्कर्स पार्टी के पोलित ब्यूरो की एक बैठक बुलाई, जहां सदस्यों ने एंटी-वायरस उपायों को बढ़ाने का फैसला किया. बैठक के दौरान किम ने अधिकारियों से कोविड के फैलने को स्थिर करने और संक्रमण के सोर्स को जल्द से जल्द खत्म करने को कहा. डेली मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, लोगों को घरों के भीतर रहने को कहा गया है और अधिकारियों द्वारा राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन लागू कर दिया गया है.
संक्रमित लोगों की नहीं दी गई जानकारी
सरकारी मीडिया ने बताया, 'देश में सबसे बड़ी आपातकालीन घटना हुई है. फरवरी 2020 से पिछले दो सालों और तीन महीनों में देश को सुरक्षित रूप से रखा गया, लेकिन अब इसमें घुसपैठ हुई है.' KCNA ने इस बात की जानकारी नहीं दी है कि कोविड-19 की वजह से कितने लोग संक्रमित हुए हैं. उत्तर कोरिया में महामारी की शुरुआत होने के बाद से देश में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए एक सख्त कोविड पॉलिसी लागू की गई थी. इस बात का भी दावा किया गया है कि देश में स्वास्थ्य सुविधाओं के सीमित होने और वैश्विक स्तर पर अलग-थलग होने की वजह से किम जोंग चिंतित हैं.
किम को लगता है कि इन दोनों कारणों की वजह से कोविड का देश पर बहुत ही खतरनाक असर देखने को मिल सकता है. उत्तर कोरिया में लोगों को महामारी की शुरुआत होने के बाद आपातकालीन क्वारंटीन व्यवस्था से गुजरना पड़ा था. इसके तहत लोगों को बाहर निकलने की इजाजत नहीं थी और नियमों को तोड़ने पर कड़ी कार्रवाई की बात कही गई थी. अभी तक उत्तर कोरिया का कहना था कि उसने कोरोना को काबू में रखने में सफलता हासिल की है. हालांकि, अब पहले कोविड प्रकोप की बात को स्वीकार कर लिया गया है. ऐसे में भविष्य में होने वाले घटनाक्रमों पर सबकी निगाहें हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta