विश्व

अफगानिस्तान में भूकंप से पसरा मातम, जमींदोज हुए मकान, सड़क पर घूमते दिख रहे अनाथ बच्चे

Rani Sahu
23 Jun 2022 5:33 PM GMT
अफगानिस्तान में भूकंप से पसरा मातम, जमींदोज हुए मकान, सड़क पर घूमते दिख रहे अनाथ बच्चे
x
अफगानिस्तान में भूकंप से पसरा मातम

एक तो अफगानिस्तान पहले से ही गंभीर आर्थिक संकट और बदहाली से गुजर रहा था, ऊपर से बुधवार तड़के आए शक्तिशाली भूकंप (Afghanistan Earthquake) से और सबकुछ तबाह हो गया. भूकंप इतना शक्तिशाली था कि ताश के पत्तों की तरह कई सारे घर ढह गए. बड़ी संख्या में लोग मलबे में दब गए. इस भीषण तबाही से देश की और दुर्दशा हो गई है. इस भूकंप में 1000 से अधिक लोगों की मौत हो गई जबकि 1500 से अधिक घायल हो गए. इस भूकंप ने देश में जमकर तांडव मचाया. अफगानिस्तान में हर तरफ से तबाही की तस्वीरें सामने आईं. करीब 20 साल बाद देश में ऐसा भूकंप आया है. देश में चीख पुकार के बीच भारत ने काबूल में अपनी टेक्निकल टीम भेजी है.

भारत ने काबुल में तैनात की टेक्निकल टीम
भारत ने गुरुवार को कहा कि अफगान समाज के साथ हमारे लंबे समय से संबंध और मानवीय सहायता सहित विकास साझेदारी हमारे दृष्टिकोण का मार्गदर्शन करना जारी रखेगी. भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि एक भारतीय तकनीकी दल आज काबुल पहुंचा है और वहां हमारे दूतावास में तैनात किया गया है. विदेश मंत्रालय ने कहा, 'मानवीय सहायता के प्रभावी वितरण के लिए विभिन्न हितधारकों के प्रयासों की बारीकी से निगरानी और समन्वय करने के लिए तथा अफगान लोगों के साथ हमारे जुड़ाव को जारी रखने के वास्ते, एक भारतीय तकनीकी टीम आज काबुल पहुंच गई है और वहां हमारे दूतावास में तैनात की गई है.'
पिछले साल भारत ने दूतावास को हटा लिया था

बता दें कि पिछले साल अगस्त में तालिबान के सत्ता में आने के बाद भारत ने अपने दूतावास से अपने अधिकारियों को हटा लिया था. पिछले साल अगस्त में तालिबान के सत्ता में आने के बाद भारत ने अपने दूतावास से अपने अधिकारियों को हटा लिया था. मंत्रालय ने कहा, 'हाल ही में, एक अन्य भारतीय दल ने अफगानिस्तान को हमारी मानवीय सहायता के वितरण कार्यों की निगरानी के लिए काबुल का दौरा किया था और तालिबान के वरिष्ठ सदस्यों से मुलाकात की थी.' विदेश मंत्रालय ने कहा कि उस टीम के दौरे के दौरान सुरक्षा स्थिति का आकलन भी किया गया था
सड़क पर घूमते दिख रहे अनाथ बच्चे
उधर, सोशल मीडिया पर एक नन्हीं बच्ची की तस्वीर वायरल हो रही है. कहा जा रहा है कि उसके परिवार के सारे लोग भूकंप में मर गए. सिर्फ वो अकेली बच गई. उसके चेहरे पर मिट्टी लगी हुई है. उसके पीछे क्षतिग्रस्त मकान दिख रहा है.
PM मोदी ने दिया था मदद का आश्वासन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगानिस्तान में भूकंप से हुई जानमाल की क्षति और तबाही पर दुख व्यक्त करते हुए बुधवार को कहा था कि भारत जल्द से जल्द हर संभव आपदा राहत सामग्री उपलब्ध कराने के लिए तैयार है. मोदी ने कहा कि भारत अफगानिस्तान के लोगों के साथ खड़ा है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'अफगानिस्तान में आज विनाशकारी भूकंप की खबर से गहरा दुख हुआ. जनहानि पर मेरी गहरी संवेदना.' प्रधानमंत्री ने कहा, भारत मुश्किल समय में अफगानिस्तान के लोगों के साथ खड़ा है और जल्द से जल्द हर संभव आपदा राहत सामग्री उपलब्ध कराने के लिए तैयार है.'
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta