विश्व

रूस-जर्मनी में कोरोना मचाने लगा कत्लेआम, एक दिन में कहीं 40 हजार तो कहीं 37 हजार नए केस,1200 मौतें

Renuka Sahu
6 Nov 2021 2:05 AM GMT
रूस-जर्मनी में कोरोना मचाने लगा कत्लेआम, एक दिन में कहीं 40 हजार तो कहीं 37 हजार नए केस,1200 मौतें
x

फाइल फोटो 

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस एक बार फिर से अपने असली रंग में लौटने लगा है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस एक बार फिर से अपने असली रंग में लौटने लगा है। रूस से लेकर जर्मनी तक में जिस तरह से कोरोना ने छलांग लगाई है, उससे एक फिर से महामारी की नई लहर की आशंका बढ़ गई है। रूस में जहां एक दिन में करीब चालीस हजार तो जर्मनी में रिकॉर्ड 37 हजार नए केस सामने आए हैं। वहीं मरने वालों की संख्या भी डराने वाली है। रूस में एक दिन में जहां 1200 लोगों ने जान गंवाई है, वहीं जर्मनी में 154 लोगों को कोरोना ने अपना शिकार बनाया है।

जर्मनी में कैसे हैं हालात
जर्मनी में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड नये मामले सामने आए। जर्मनी के रोग नियंत्रण केन्द्र रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट के मुताबिक, देश में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 37,120 नये मामले सामने आए जबकि 154 मरीजों की मौत हुई। रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट ने कहा कि संक्रमण की इस लहर में कोविड रोधी टीके की खुराक नहीं लेने वालों को सर्वाधिक खतरा है। इससे पहले जर्मनी में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 33,949 नये मामले सामने आए थे। गौरतलब है कि यूरोप के कई देशों में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। जर्मनी में महामारी के कारण अब तक 96,346 लोगों की मौत हो चुकी है।
रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट ने गुरुवार को जारी अपनी साप्ताहिक रिपोर्ट में कहा कि टीका नहीं लगवाने वालों तथा टीके की केवल एक खुराक लेने वालों को संक्रमण से सर्वाधिक खतरा है। संपूर्ण रूप से टीकाकरण कराने वाले लोगों को मध्यम स्तर का खतरा है। जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री ने देश में कोविड-19 के खिलाफ लोगों को अधिक प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करने वाली बूस्टर खुराक वाले टीकाकरण अभियान को तेज करने की वकालत की है। इसके अलावा उन्होंने देश में जांच की संख्या बढ़ाने पर भी जोर दिया है। जर्मनी में अधिकारियों ने लोगों से जल्द से जल्द टीकाकरण कराने की अपील की है। ऐसे क्षेत्र, जहां टीकाकरण की दर कम है वहां संक्रमण का सर्वाधिक प्रकोप है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक जर्मनी की 8.3 करोड़ आबादी के पात्र लोगों में से दो तिहाई जनसंख्या कोविड टीकाकरण करवा चुकी है।
रूस में कोरोना के 40 हजार से ज्यादा नए मामले
रूस में शुक्रवार को कोरोना वायरस से 40,000 से ज्यादा नए मामले आए और करीब 1200 लोगों की मौत हो गई है। रूस में इस हफ्ते अधिकतर व्यवसायों को बंद कर दिया गया है। राष्ट्रीय कोरोना वायरस कार्यबल ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 1192 लोगों की मौत हुई है और 40,735 नए मामले सामने आए हैं। इस हफ्ते के शुरू में एक दिन में रिकॉर्ड 1,195 लोगों की मौत हुई थी और 40,993 नए मरीज मिले थे। अधिकारियों ने मध्य सितंबर से मामलों में तेज़ी से वृद्धि का एक प्रमुख कारण टीकाकरण की दर में कमी को बताया है। सरकार ने वायरस के प्रसार को काबू में करने के लिए छह दिन की राष्ट्रीय कार्यबंदी घोषित की थी। पिछले महीने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने आदेश दिया था कि 30 अक्टूबर से सात नवंबर के बीच अधिकतर रूसी घर में ही रहें। उन्होंने जरूरत पड़ने पर कार्यबंदी का विस्तार करने की शक्तियां स्थानीय सरकारों को दी थी।
देश के नोव्गोरोड क्षेत्र, साइबेरिया के टॉम्स्क, यूराल पर्वत के चेल्याबिंस्क समेत कई क्षेत्रों ने कार्यबंदी की अवधि अगले हफ्ते के अंत तक बढ़ा दी है। मास्को के मेयर ने कहा कि राजधानी में सोमवार से दफ्तर और व्यवसाय खोले जाने के लिए स्थिति पर्याप्त स्थिर है। रूस द्वारा मिलाए गए क्रीमिया क्षेत्र में भी अगले हफ्ते से कामकाज शुरू हो जाएगा। हालांकि, रूस की राजधानी में कुछ प्रतिबंध लागू रहेंगे । रूस में कोरोना वायरस के कुल 87 लाख से ज्यादा मामले आ चुके हैं, जबकि महामारी ने 2,44,447 लोगों की जान ले ली है।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it