विश्व

अमेरिका में पिछले 24 घंटों में कोरोना के रिकॉर्ड 10 लाख, बाइडन बोले- एहतियात बरतें

Neha
6 Jan 2022 2:00 AM GMT
अमेरिका में पिछले 24 घंटों में कोरोना के रिकॉर्ड 10 लाख,  बाइडन बोले- एहतियात बरतें
x
नया लक्ष्य समाज के संवेदनशील लोगों को एक और लॉकडाउन लगाए बिना सुरक्षित रखना है।

अमेरिका में बुधवार को भी एक दिन में लगातार 10 लाख से ज्यादा मामले सामने आए। हालात इतने बिगड़ गए हैं कि अस्पताल रोगियों से पूरी तरह भर गए हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि आईसीयू में भर्ती होने वालों की संख्या बहुत कम है। इस बीच, राष्ट्रपति जो बाइडन ने लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है। उधर, ब्रिटेन, इटली और फ्रांस समेत यूरोपीय देशों में रिकॉर्ड केस आ रहे हैं।

ब्रिटेन में पिछले 24 घंटे के दौरान रिकॉर्ड दो लाख मामले आए, जो इससे पहले कभी सामने नहीं आए थे। वहीं एक दिन के भीतर इटली में 1,70,844 और फ्रांस में करीब तीन लाख मामलों की पुष्टि हुई है। ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने देश में सख्त लॉकडाउन को लागू करने का विरोध भी किया है, क्योंकि टीकाकरण की बूस्टर खुराक के साथ बचाव भी होगा। दूसरी तरफ, अमेरिका में अस्पताल भर चुके हैं।
हालात की गंभीरता को देखते हुए राष्ट्रपति बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने व्हाइट हाउस में कोरोना नियंत्रण टीम से बैठक की। बाइडन ने ओमिक्रॉन वैरिएंट से बचने के लिए एहतियात बरतने की अपील करते हुए कहा, इस बार दवाइयों ने बड़े खतरे को टाल दिया है। बता दें, आईसीयू में कम मरीजों का आना बताता है कि लोगों में गंभीर संक्रमण के चलते मरने का आंकड़ा तुलनात्मक रूप से कम है।
अदालत ने दो सप्ताह तक आपराधिक परीक्षण रोका
अमेरिका में ओमिक्रॉन का प्रसार कम होने के संकेत न मिलते देख लॉस एंजिलिस काउंटी में देश की सबसे बड़ी अदालत प्रणालियों में से एक के पीठासीन जज ने दो सप्ताह तक आपराधिक परीक्षण रोकने का आदेश दिया। इसके अलावा, देश के तीसरे सबसे बड़े स्कूल शिकागो पब्लिक स्कूल ने कहा कि शिक्षक संघ द्वारा ऑनलाइन शिक्षा में वापसी के पक्ष में मतदान किया गया है। ऐसे में बुधवार से यहां कक्षाएं बंद की जाएंगी। अमेरिका में सरकारी और निजी दफ्तरों में लोगों की आमद काफी घट गई है। इसका एक कारण कर्मचारियों का कोविड पीड़ित होना भी बताया जा रहा है।
ओमिक्रॉन हल्का नहीं, बढ़ते मामले नया वैरिएंट पैदा करेंगे : डब्ल्यूएचओ
डब्ल्यूएचओ ने चेताया है कि ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को हल्के में न लें, क्योंकि इसकी बढ़ती तादाद एक नए और ज्यादा घातक वैरिएंट को उभरने में मदद कर सकती है। संगठन की आपातकालीन अधिकारी कैथरीन स्मॉलवुड ने कहा, बढ़ती संक्रमण दर का विपरीत असर हो सकता है।
उधर, डब्ल्यूएचओ की कोविड-19 इंसीडेंट मैनेजमेंट सपोर्ट टीम के आब्दी महमूद ने कोरोना रोगियों को 14 दिनों तक क्वारंटीन रहने की सलाह दी है। हालांकि उन्होंने देशों को उनके निजी हालात के आधार पर फैसले की अवधि पर फैसला करने को भी कहा। अधिकांश मामलों में कोरोना 5 से 7 दिनों में ठीक हो रहा है।
हांगकांग ने आठ देशों से उड़ानें रोकीं, अन्य पाबंदियां भी
कोविड-19 के ओमीक्रॉन स्वरूप के बढ़ते मामलों के तहत हांगकांग ने बुधवार को भारत और सात अन्य देशों से उड़ानों पर दो सप्ताह के लिए प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। इन आठ देशों में भारत के अलावा पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, फ्रांस, फिलीपीन, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं।
वहीं, एक जहाज पर सवार करीब 2500 यात्रियों को भी जांच के लिए रोकने का फैसला किया गया। यहां, शुक्रवार से दो सप्ताह के लिए शाम छह बजे के बाद रेस्तरां भी बंद किए जाएंगे। इस अवधि के दौरान खेल के मैदान, बार और ब्यूटी सैलून भी बंद रहेंगे।
इस्राइल : टीके की चौथी खुराक देने को तैयार
इस्राइल में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के नए मामले लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में देश ने कोविड रोधी टीके की चौथी खुराक देने की तैयारी की है। इस बीच, देश के स्वास्थ्य मंत्रालय के शीर्ष जन स्वास्थ्य अधिकारी शोरॉन अलरॉय-प्रेइस ने एक टीवी चैनल पर कहा कि ओमिक्रॉन की लहर पर नियंत्रण का अभाव है। येरूशलम में शारे जेदक मेडकिल केंद्र के प्रमुख जोनथन हलेवी ने कहा कि शायद संक्रमण से कोई भी सुरक्षित नहीं है। नया लक्ष्य समाज के संवेदनशील लोगों को एक और लॉकडाउन लगाए बिना सुरक्षित रखना है।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it