विश्व

चीन ने ओमिक्रोन वैरिएंट से लड़ने वाली दो वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल को दी मंजूरी

Neha Dani
16 April 2022 11:26 AM GMT
चीन ने ओमिक्रोन वैरिएंट से लड़ने वाली दो वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल को दी मंजूरी
x
राष्ट्रपति ने बुधवार को कहा कि कोरोना संक्रमण खत्म करने वाली अपनी सख्त नीति को अभी नहीं रोकनी चाहिए।

हांग कांग में ओमिक्रोन से बचाव के लिए विकसित कोरोना वैक्सीन को क्लिनिकल ट्रायल के लिए मंजूरी मिल चुकी है। इस वैक्सीन को सिनोफार्म और सिनोवैक बायोटेक ने विकसित किया है। दुनियाभर के वैज्ञानिक इस वक्त ओमिक्रोन को हराने के लिए वैक्सीन को विकसित करने में जुटे हैं।

सिनोफार्म की सहायक कंपनी ने दी जानकारी
शनिवार को सिनोफार्म की सहायक कंपनी की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार वायरस के पुराने स्ट्रेन के आधार पर कोरोना वैक्सीन से मिलने वाली एंटीबाडी अत्यधिक संक्रामक वैरिएंट को बेअसर करने में सफल नहीं है। कंपनी ने बताया है कि वैक्सीन का ट्रायल कोरोना वैक्सीन की दो या तीन डोज लगवा चुके लोगों पर होगा। एक अध्ययन के अनुसार BBIBP-CorV की चौथी डोज जो एक सिनोफार्म वैक्सीन है से ओमिक्रोन के खिलाफ एंटीबाडी के लेवल को अधिक बढ़ने नहीं दिया जितने की उम्मीद थी।
ओमिक्रोन वैरिएंट से जूझ रहा कोरोना
चीन में कोरोना की तीसरी लहर बेकाबू हो रही है। यहां कोरोना के रोजाना हजारों मामले सामने आ रहे हैं। चीन का आर्थिक हब कहे जाने वाले शंघाई में हालात और बुरे हैं। यहां बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3,200 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, 19,872 लक्षणहीन केस दर्ज किए गए हैं। समाचार एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक नगर स्वास्थ्य आयोग ने शुक्रवार को ये जानकारी दी है।
इससे पहले बुधवार को शंघाई में कोरोना के 2,573 मामले सामने आए थे जबकि लक्षणहीन मामलों की संख्या 25,146 थी। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण सप्लाई चेन में बाधा आ रही है। बता दें कि चीन के सबसे बड़े शहर में पिछले कुछ दिनों से लाकडाउन लगाया गया है। ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख में कहा गया कि लाकडाउन की वजह से 2 करोड़ लोगों के घरों में कैद हैं। बढ़ते संक्रमण की वजह से लोगों की चिंताएं और बढ़ने लगी हैं।
चीन लगातार अपनी जीरो कोविड पालिसी का बचाव करता रहा है। राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा है कि देश में कोविड की रोकथाम और एहतियातन उठाए गए कदमों में छूट नहीं मिलनी चाहिए। राष्ट्रपति ने बुधवार को कहा कि कोरोना संक्रमण खत्म करने वाली अपनी सख्त नीति को अभी नहीं रोकनी चाहिए।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta