विश्व

दक्षिण अफ्रीका में लगातार कम हो रहे मामले, हॉस्पिटल में भर्ती होने वालों की संख्या भी घटी, आई है बड़ी खुशखबरी

Neha Dani
21 Dec 2021 3:27 AM GMT
दक्षिण अफ्रीका में लगातार कम हो रहे मामले, हॉस्पिटल में भर्ती होने वालों की संख्या भी घटी, आई है बड़ी खुशखबरी
x
बिना विशेष इजाजत लिए इजरायलियों का इन देशों में जाना प्रतिबंधित है.

दुनियाभर में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) की शुरुआत करने वाले दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में अब हालात सुधरते नजर आ रहे हैं. दैनिक कोरोना मामलों में यहां लगातार कमी दर्ज की जा रही है, जो निश्चित तौर पर पूरे विश्व के लिए अच्छी खबर है. नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर कम्युनिकेबल डिजीज (NICD) के आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले 23 घंटों में 8,515 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. जबकि पिछले सोमवार को यह आंकड़ा 13,992 था.

टेस्ट पॉजिटिव रेट में आई कमी
'डेली मेल' की रिपोर्ट के मुताबिक, ओमिक्रॉन आउटब्रेक के बाद पॉजिटिव मामलों में 40 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. साथ ही हॉस्पिटल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या भी घटी है. सोमवार को केवल 323 लोगों को ही अस्पताल में भर्ती कराया गया. हालांकि, टेस्टिंग में भी कमी आई है. सोमवार को 28,000 लोगों की कोरोना जांच की गई, जबकि पिछले हफ्ते से 45,000 थी. इस वजह से संक्रमण के मामलों में अंतर हो सकता है. लेकिन अच्छी बात ये है कि टेस्ट पॉजिटिव रेट में पिछले हफ्ते में थोड़ी कमी दर्ज की गई थी, जिससे संकेत मिलता है कि कोरोना के नए वैरिएंट का प्रकोप कम हो रहा है.
UK पर लगाया दहशत फैलाने का आरोप
दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन की शुरुआत के समय वहां के डॉक्टरों ने कहा था कि देश में इसका प्रभाव डेल्टा वेरिएंट जैसा नहीं होगा. अब ये बहस का मुद्दा है कि वास्तव में ओमिक्रॉन ज्यादा खतरनाक नहीं है या फिर ऐसा अफीकी लोगों की इम्युनिटी के चलते हो रहा है, जिन्होंने एक महीने पहले ही डेल्टा वेरिएंट का सामना किया था. अफ्रीका ने यूके पर भी ओमिक्रॉन के खतरे को बढ़ा-चढ़ा पेश करने का आरोप लगाया है. ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने चेतावनी देते हुए कहा था कि ओमिक्रोन से 6000 मौतें हर रोज होंगी.
घबराए इजरायल ने उठाया ये कदम
वहीं, इजरायल ने सोमवार को ओमिक्रोन के बढ़ते मामलों को देखते हुए नागरिकों को विशेष अनुमति के बिना अमेरिका की यात्रा करने पर प्रतिबंध लगा दिया है. प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट के कार्यालय द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, कैबिनेट ने इस कदम को मंजूरी दी है, जो मंगलवार से प्रभावी हो गया है. इसके साथ ही इजराइल ने कोरोना के अत्यधिक मामलों वाले देशों को रेड लिस्‍ट में शामिल किया है. बिना विशेष इजाजत लिए इजरायलियों का इन देशों में जाना प्रतिबंधित है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta