विश्व

क्या ओमिक्रॉन से दो बार हो सकते हैं संक्रमित? जानें एक्सपर्ट्स से जवाब

Gulabi
15 Jan 2022 3:16 PM GMT
क्या ओमिक्रॉन से दो बार हो सकते हैं संक्रमित? जानें एक्सपर्ट्स से जवाब
x
जानें एक्सपर्ट्स से जवाब
कोरोनावायरस (Coronavirus) का लेटेस्ट और तेजी से फैलने वाला ओमिक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) एक ही व्यक्ति को दो बार संक्रमित कर सकता है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि ऐसा बिल्कुल भी दुर्लभ नहीं हो सकता है. ये जानकारी ऐसे समय पर सामने आई है, जब दुनिया कोरोना की एक नई लहर (Covid Wave in World) से जूझ रही है. वर्तमान में कोरोना लहर के पीछे ओमिक्रॉन वेरिएंट का हाथ है. भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया समेत कई मुल्कों में कोरोना केस में तेजी से इजाफा हो रहा है. इस वजह से कई मुल्कों में लॉकडाउन लगाने की नौबत आ गई है.
अमेरिकी एपिडिमियोलॉजिस्ट एरिक फीगल-डिंग (Eric Feigl-Ding) ने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट से दोबारा संक्रमित होने का केस सामने आने निश्चित रूप से संभव है. अगर व्यक्ति पहली बार में ओमिक्रॉन से संक्रमित हुआ है तो उस समय वायरस का कम असर रहा होगा, जिसकी वजह से इम्यून सिस्टम ठीक से एक्टिव नहीं हो पाया. वहीं, ओमिक्रॉन वेरिएंट से दूसरी बार संक्रमित होने का खतरा तब भी बढ़ सकता है, अगर किसी व्यक्ति का इम्यून सिस्टम कमजोर है.
उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'हाल के दिनों में ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित होने के बाद इस वेरिएंट से दोबारा संक्रमित होने के कई सारे केस सामने आए हैं. ऐसा निश्चित रूप से संभव है, अगर आपका पहला ओमिक्रॉन वेरिएंट संक्रमण कम डोज वाला था. इसने आपके इम्यून सिस्टम को ठीक तरह से उत्तेजित नहीं किया. अगर आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हैं, तभी खतरा है. ऐसे में सावधान रहें दोस्तों.'
वैक्सीन लगवाने वाले लोग भी हुए संक्रमित
दुनिया में पहले भी दोबारा संक्रमित होने के केस सामने आ चुके हैं. जब भी कोविड महामारी की नई लहर सामने आती थी तो लोग वायरस से दो बार तक संक्रमित हुए. वहीं, वैक्सीन लगवाए हुए लोगों के संक्रमित होने के केस भी नए नहीं है, क्योंकि वक्त के साथ वैक्सीन का असर कम होने लगता है. हालांकि, वैक्सीन लोगों को संक्रमण की वजह से गंभीर रूप से बीमार होने से बचाती है और उनके मरने के खतरे को कम करती है. ओमिक्रॉन द्वारा दोबारा संक्रमित होने का विचार नया नहीं है, क्योंकि वर्तमान में दुनिया में ओमिक्रॉन वेरिएंट की वजह से ही नई कोविड लहर आई हुई है.
अगर लोग ओमिक्रॉन वेरिएंट से दोबारा संक्रमित हो रहे हैं, तो इसका मतलब ये है कि लोग बड़ी ही कम अवधि में दोबारा संक्रमित हुए हैं. संक्रमित होने के बाद प्राकृतिक रूप से पैदा हुई इम्युनिटी सात से नौ महीनों तक होती है. वहीं, जो लोग कोरोना के अन्य वेरिएंट से संक्रमित हुए थे, वे ओमिक्रॉन से दोबारा संक्रमित हो सकते हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta