विश्व

हत्या के आरोपी को बचाने के लिए चला अभियान, कानूनी जंग के लिए चंदा जुटाया; वजह ही थी कुछ ऐसी

Neha
15 Jan 2022 4:46 AM GMT
हत्या के आरोपी को बचाने के लिए चला अभियान, कानूनी जंग के लिए चंदा जुटाया; वजह ही थी कुछ ऐसी
x
उसे अपने दोस्त को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपों का सामना करना होगा.

रूस (Russia) में एक शख्स ने अपने बेस्ट फ्रेंड (Best Friend) की बेरहमी से हत्या कर डाली. उसने पहले दोस्त से ही उसकी कब्र खुदवाई फिर मारने के बाद उसे वहीं दफन कर दिया. हालांकि, इसके बावजूद उस पर हत्या का मुकदमा नहीं चलेगा. बड़ी संख्या में लोग उसे माफी देने की मांग कर रहे हैं. उसके समर्थन में अभियान चलाए जा रहे हैं. दरअसल, इस शख्स ने अपने दोस्त के मोबाइल में कुछ ऐसा देख लिया था, जिससे वो आपा खो बैठा और अपराध को अंजाम दे डाला.

असलियत सामने आते ही पलटा मामला
'डेली स्टार' की रिपोर्ट के अनुसार, 34 वर्षीय व्याचेस्लाव मैट्रोसो (Vyacheslav Matrosov) को अपने दोस्त ओलेग स्विरिडोव (Oleg Sviridov) की हत्या (Murder) के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन जब पूरी कहानी सामने आई तो बड़ी संख्या में लोग मैट्रोसो के समर्थन में उतर आए. उसे माफी देने की मांग शुरू हो गई. अब अदालत ने भी स्पष्ट कर दिया है कि दो बच्चों के पिता पर हत्या का मुकदमा नहीं चलेगा.
ये थी दोस्त की हत्या की वजह
मैट्रोसो ने अपने दोस्त ओलेग के मोबाइल में अपने लड़की की आपत्तिजनक तस्वीरें और वीडियो देख लिए थे. एक वीडियो में उनकी छह साल की बेटी रहम की गुहार लगा रही थी और आरोपी उसे गलत काम करने के लिए मजबूर कर रहा था. यह देखकर मैट्रोसो गुस्से से भड़क उठा और दोस्त को लेकर पास के जंगल पहुंचा. यहां उसने पहले दोस्त से ही उसकी कब्र खुदवाई फिर मारने के बाद उसे वहीं दफन कर दिया.
2500 लोगों ने चलाया अभियान
लड़की के पिता को पहले हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. लेकिन जैसे ही हत्या के पीछे की कहानी पता चली, Samara क्षेत्र के लोगों ने मैट्रोसो के पक्ष में अभियान शुरू कर दिया. उन्होंने चंदा भी इक्कठा किया ताकि कानूनी लड़ाई में मैट्रोसो को पैसों की कमी न आए. करीब 2500 निवासियों ने अपने हस्ताक्षर वाली याचिका दायर करते हुए मैट्रोसो को माफी देने की मांग की.
'बच्ची को बचाना हत्या नहीं'
लोगों ने कहा कि एक पिता ने अपनी बच्ची को हैवान से बचाने के लिए जो कुछ किया, उसे हत्या नहीं कहा जा सकता. इस मामले में प्रसिद्ध टीवी पत्रकार और राष्ट्रपति चुनाव में किस्मत आजमा चुके Ksenia Sobchak भी व्याचेस्लाव मैट्रोसो के समर्थन में उतर आए. उन्होंने कहा कि वो और उनके समर्थक मजबूर पिता की हर संभव मदद के लिए तैयार हैं. अपराध की परिस्थिति और पब्लिक सपोर्ट को देखते हुए अदालत ने मैट्रोसो पर हत्या का मुकदमा चलाने से इनकार कर दिया है. हालांकि, उसे अपने दोस्त को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपों का सामना करना होगा.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it