Top
विश्व

ऑस्ट्रेलिया प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने सुस्त कोविड-19 टीकाकरण के लिए माफी मांगी

Bharti
22 July 2021 2:28 PM GMT
ऑस्ट्रेलिया  प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने सुस्त कोविड-19 टीकाकरण के लिए माफी मांगी
x
साल 2020 में शुरू हुई महामारी पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए ऑस्ट्रेलिया की विश्वभर में तारीफ हुई थी,

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | साल 2020 में शुरू हुई महामारी पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए ऑस्ट्रेलिया की विश्वभर में तारीफ हुई थी, लेकिन इस साल लॉकडाउन के बावजूद ऑस्ट्रेलिया अत्यधिक संक्रामक डेल्टा वेरिएंट संक्रमण को फैलने से रोकने में पूरी तरह से विफल रहा है। देश के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने सुस्त कोविड-19 टीकाकरण के लिए माफी मांगी है। देश के सबसे ज्यादा आबादी वाली राज्य न्यू साउथ वेल्स में बीते 16 महीनों की तुलना में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले आमने आए हैं।

लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका
मॉरिसन ने एक प्रेस वार्ता के दौरान अपनी खामियों के लिए माफी मांगी है। अपने एक बयान में उन्होंने खेद व्यक्त करते हुए कहा कि हम इस साल की शुरुआत में तय किए गए लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाए हैं, जिसके लिए मैं माफी चाहता हूं। वहीं देश में आर्थिक मामलों के जानकार, जोश फ्राइडेनबर्ग ने बताया की प्रतिबंधों के कारण प्रतिदिन करीब 30 करोड़ डॉलर का नुकसान उठाना पड़ रहा था। इसके बावजूद देश में टीकाकरण का आंकड़ा सिर्फ 15 फीसदी ही बना हुआ था, जिसको लेकर जनता में गुस्से का माहौल है। आपको बता दें, ऑस्ट्रेलिया हर दिन डेढ़ लाख से भी कम टीके लगा रहा है। ये आंकड़ा अन्य विकसित देशों की तुलना में बहुत कम है।

साल के अंत तक लक्ष्य होगा हासिल
देश में सुस्त टीकाकरण को लेकर सरकार का कहना है कि वो साल 2021 के आखिर तक टीकाकरण को लेकर अपने लक्ष्य को पूरा कर लेगी, क्योंकि आने वाले दिनों में फाइजर और मॉडर्ना से लाखों वैक्सीन के डोज देश में आने की उम्मीद है।
लॉकडाउन के बावजूद बढ़ा संक्रमण
गौरतलब है कि देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य न्यू साउथ वेल्स में संक्रमण के 129 नए मामले दर्ज किए गए हैं, ये आंकड़ा बीते 16 महीनों में संक्रमण का सबसे ज्यादा आंकड़ा है। साथ ही आशंका जताई जा रही है कि मामलों में और बढ़ोतरी दर्ज की जा सकती है। संक्रमण के ज्यादातर मामले सिडनी में दर्ज किए गए हैं, जबकि यहां बीते 4 हफ्तों से सख्त लॉकडाउन जारी है। वहीं, विक्टोरिया में भी पिछले 2 हफ्तों से प्रतिबंध लगाए गए हैं, यहां संक्रमण के 26 नए मामले दर्ज किए गए हैं।


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it