विश्व

महामारी के बीच यहां बढ़ गई बंदरों की आबादी, घर छोड़ भागे नागरिक

Gulabi
15 Jan 2022 4:51 PM GMT
महामारी के बीच यहां बढ़ गई बंदरों की आबादी, घर छोड़ भागे नागरिक
x
बंदरों पर काबू पाने की हुई नाकाम कोशिश
कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) ने दुनिया में अभी भी अपना कहर बरपाना खत्म नहीं किया है. भारत में तो कोरोना की तीसरी लहर (Coronavirus Third Wave) भी जारी है और हर दिन लाखों केस सामने आ रहे हैं. वैसे कोरोना में जितना इंसानों पर असर पड़ा है, उतना ही जानवरों पर भी बुरा असर पड़ चुका है. इंसानों के घर में कैद हो जाने के बाद से कई जानवर भूखे-प्यासे रह जा रहे हैं. मगर थाइलैंड के एक शहर में स्थिति कुछ और है. यहां महामारी के दौरान बंदरों (Monkey Population increased in Thailand City) की आबादी बढ़ गई है और अब उसका खामियाजा इंसानों को भुगतना (Monkey Attack Humans in Thailand) पड़ रहा है.
थाइलैंड का शहर लॉपबुरी (Lopburi, Thailand) मकाक्स प्रजाति के बंदरों का गढ़ है. यहां लंबे वक्त से ढेरों बंदर रहते हैं मगर अब महामारी के दौरान यहां बंदरों की आबादी अचानक से बढ़ गई है. डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर से यहां पर्यटक घूमने आते थे जो बंदरों को खाने-पीने की चीजें दे देते थे जिससे उनका पेट पल जाता था मगर अब जब से कोरोना महामारी के कारण लोगों को आना बंद हुआ है, तब से ही बंदरों ने आम नागरिकों का जीना हराम कर दिया है
लोगों के घरों में भी घुस जा रहे बंदर

नवंबर से टूरिस्ट फिर से आने लगे मगर उन्होंने देखा कि बंदरों की आबादी बहुत ज्यादा बढ़ गई है. रिपोर्ट्स की मानें तो अब बंदर लोगों के घरों में हमला कर रहे हैं और खाने की चीजें चुरा ले जा रहे हैं. यही नहीं, सड़क पर चलना-फिरना भी लोगों के लिए दूभर हो गया है. बंदरों के खौफ से अब लोग अपना घर भी छोड़कर भागने पर मजबूर हो रहे हैं.
बंदरों पर काबू पाने की हुई नाकाम कोशिश
बंदर अब लोगों की कार में घुस जा रहे हैं, दुकानों से सामान चुरा रहे हैं, खाने और अपने इलाके के लिए आपस में भिड़ रहे हैं और अक्सर लोगों के घरों के अंदर भी घुस जा रहे हैं. पिछले लंबे वक्त से यहां के बंदर इंसानों के साथ ही रहते हैं इसलिए अब उनके अंदर से इंसानों के लिए खौफ भी खत्म हो गया है. साल 2020 में कई बंदरों को स्टरलाइज किया गया था जिससे उनकी आबादी पर काबू पाया जा सके मगर ऐसे नहीं हो सका. आपको बता दें कि साल 2020 में और 2021 की शुरुआत में जब देश में लॉकडाउन लगा तो बंदरों का उतपात मचने लगा. खाने के लिए वो आपस में ही भिड़ने लगे. तब आम लोगों ने उन्हें फास्ट फूड और खाना-पीना खिलाना शुरू कर दिया. इसके बाद स्थिति और बिगड़ गई.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it