विश्व

फ्रांस में नाव डूबने से 31 प्रवासियों की गई जान, समुद्री रास्ते से ब्रिटेन जाने की कर रहे थे कोशिश

Subhi
25 Nov 2021 4:28 AM GMT
फ्रांस में नाव डूबने से 31 प्रवासियों की गई जान, समुद्री रास्ते से ब्रिटेन जाने की कर रहे थे कोशिश
x
फ्रांस में बड़ा हादसा होने की खबर है। बताया जा रहा है कि समुद्री रास्ते से ब्रिटेन जाने की कोशिश रही नाव बीच समुद्र में डूब गई। इस हादसे में करीब 31 लोगों के मारे जाने की खबर है।

फ्रांस में बड़ा हादसा होने की खबर है। बताया जा रहा है कि समुद्री रास्ते से ब्रिटेन जाने की कोशिश रही नाव बीच समुद्र में डूब गई। इस हादसे में करीब 31 लोगों के मारे जाने की खबर है। फ्रांस की पुलिस के मुताबिक, प्रवासी समुद्री रास्ते से फ्रांस से ब्रिटेन जाने की कोशिश कर रहे थे। उसी वक्त यह हादसा हो गया।

गृह मंत्री गेराल्ड डारमैनिन ने कहा कि अब तक मिली जानकारी के अनुसार नाव पर 34 लोग सवार थे। अधिकारियों को उनमें से 31 के शव मिले हैं और दो लोग जीवित बच पाए हैं। एक व्यक्ति अभी भी लापता है। फ्रांस के गृह मंत्री ने इसे सबसे बड़ी त्रासदी बताते हुए कहा कि हादसे में ब्रिटेन जा रहे कम से कम 31 प्रवासियों की बुधवार को मौत हो गई। उनकी नाव इंग्लिश चैनल में डूबी।
इस हादसे में जिंदा बचे लोगों की तलाश के लिए फ्रांस और ब्रिटेन की ओर से संयुक्त बचाव अभियान चलाया गया, जो बुधवार शाम तक जारी रहा। इसे इंग्लिश चैनल में अब तक का सबसे घातक दिन बताया जा रहा है। डारमैनिन ने अतीत में हुए ऐसे हादसों को याद कर अपराधियों और मानव तस्करों को इसके लिए जिम्मेदार ठहाराया, जो कि हजारों लोगों की जिंदगी अब तक जोखिम में डाल चुके हैं। डूबने वाले यात्रियों की राष्ट्रीयता के बारे में जानकारी नहीं दी गई है।
घटना के बाद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सरकार की संकट समिति की एक बैठक बुलाई। वहीं फ्रांस में गृह मंत्री में जीवित बचे लोगों को देखने के लिए कैलाइस अस्पताल पहुंचे। दोनों सरकारें लंबे समय से इस बात पर अड़ी हैं कि कैसे गैरकानूनी रूप से हो रहे सीमा पार के आवागमन पर रोक लगाई जाए। इस मामले में दोनों ही पक्षों एक-दूसरे पर ठीक से काम नहीं करने के आरोप लगाए हैं।
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि मैं इस हादसे की खबर को सुनकर हैरान, स्तब्ध और बहुत दुखी हूं। समुद्री प्राधिकरण के प्रवक्ता ने कहा कि फ्रांस की एक नाव दोपहर करीब दो बजे के आसपास डूब गई, उसके आसपास पानी में कई शव देखे गए। इसके बाद बचाव अभियान चलाकर शवों और घायलों को बाहर निकाला गया, उनमें से कुछ बेहोश भी थे।
फ्रांसीसी समुद्री एजेंसी ने जानकारी दी कि बचे हुए लोगों को तलाशने के काम में फ्रांस की तीन बोट, एक हेलिकॉप्टर और ब्रिटेन के एक हेलिकॉप्टर को लगाया गया था। कैलाइस और बोलोग्ने के बंदरगाहों के प्रमुख जीन-मार्क पुइसेसेउ ने तस्करों को हत्यारा बताया। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं पहले भी हुई हैं। परंतु किसी एक नाव में इतने सारे यात्रियों की एकसाथ मौत होने की यह घटना काफी दुर्लभ मामला है।
उन्होंने कहा कि मारे गए लोगों में ज्यादातर वो लोग हो सकते हैं जो अफगानिस्तान, ईराक, इरिट्रिया और सूडान से भागकर फ्रांस के उत्तरी इलाके से होते हुए ब्रिटेन जाना चाहते हैं। हालांकि मरने वालों की नागरिकता के बारे जानकारी अभी जारी नहीं की गई है। गृह मंत्री डारमैनिन ने इस घटना को लेकर एक भावुक कर देने वाला ट्वीट भी किया। इसमें उन्होंने तस्करों पर निशाना साधा।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it