खेल

इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम की जीत की संभावना कितना है : चैपल

Bharti sahu
4 July 2021 2:50 PM GMT
इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय टीम की जीत की संभावना कितना है : चैपल
x
विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में हिस्सा लेना है

जनता से रिश्ता वेबडेस्क | विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में हिस्सा लेना है। दोनों देशों के बीच इस टेस्ट सीरीज की शुरुआत चार अगस्त से होगी, लेकिन इससे पहले ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर ने बताया कि, इस टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया के जीतने की कितनी संभावना है। इयान चैपल को लगता है कि शानदार तेज गेंदबाजी आक्रमण की वजह से भारत के पास आगामी पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड को उसकी सरजमीं पर हराने का बराबरी का मौका है।

इयान चैपल ने कहा कि भले ही भारतीय क्रिकेट टीम ने न्यूजीलैंड से विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल गंवा दिया हो लेकिन उसकी तेज गेंदबाजी हाल के वर्षों में काफी बेहतरीन हुई है जिससे वो बीते समय की वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलियाई टीम जैसी दिखती है। चैपल ने ईएसपीएन क्रिकइंफो के अपने कॉलम में लिखा कि हाल के वर्षों में भारतीय टीम तेज गेंदबाजी करने वाली कुशल टीमों की श्रेणी में शामिल हो गई है। इसकी वजह से ही उसने ऑस्ट्रेलिया में जीत का स्वाद चखा और विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंची। अब उसके पास इंग्लैंड को उसकी ही मांद में हराने का बराबरी का मौका है। अच्छी तेज गेंदबाजी यूनिट के जाहिर तौर से अपने ही फायदे हैं।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान का मानना है कि भारत के लिए मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद सिराज जैसे तेज गेंदबाजों ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने साथ ही न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों की भी प्रशंसा की और उन्हें वेस्टइंडीज की 1970 से 90 के दशक की गेंदबाजी चौकड़ी के समान निर्भीक करार दिया। चैपल ने कहा कि न्यूजीलैंड को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में टिम साउथी, ट्रेंट बोल्ट, नील वैगनर और काइल जैमीसन की तेज गेंदबाजी चौकड़ी ने जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। न्यूजीलैंड के आक्रमण का प्रभाव ऐसा था कि इसकी तुलना वेस्टइंडीज की 1970 से 1990 दशक की तेज गेंदबाजी चौकड़ी से होने लगी।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta